कोतवाली थानांतर्गत पीएस होटल के पीछे मुदगल कॉलोनी में रहने वाले एक वृद्ध को उसी के पुत्र ने चाकू से ताबड़तोड़ प्रहार कर उसकी हत्या कर दी।

बेटे ने पिता की हत्या इस वजह से की क्योंकि उसे पिता के रोज के राम भजनों और डांट से तकलीफ थी। पुलिस ने आरोपित पुत्र के खिलाफ हत्या का प्रकरण कायम कर विवेचना प्रारंभ कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार रामेश्वर दयाल पुत्र बालकृष्ण शर्मा उम्र 65 साल की लाश उसके घर में खून से लथपथ मिली। घर में मृतक रामेश्वर दयाल शर्मा के अलावा उसका पुत्र उपेन्द्र ही था। उपेंद्र ने ही मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने जब मौके पर जाकर देखा तो मृतक के शरीर पर आठ चाकू लगे थे। पुलिस ने लाश को बरामद कर पीएम के लिए भिजवा कर मामले की विवेचना शुरू की। विवेचना के दौरान पुलिस ने जब उपेन्द्र से पूछताछ की तो उपेन्द्र का कहना था किउसके पिता ने आत्महत्या की है।

पुलिस को उपेंद्र की कहानी संदिग्ध लगी तो टीआई सुनील खेमरिया उपेंद्र को अपने उठा कर अपने साथ ले गए और उससे विभिन्न तरीकों से पूछताछ की। इस पूछताछ में उपेंद्र उलझ गया और उसने पुलिस के सामने पूरी कहानी उगली दी किउसने ही अपने पिता की हत्या की है। उपेंद्र ने हत्या का कारण बताते हुए कहा वह 28 साल का हो चुका है, नौकरी करता है, लेकिन इसके बाबजूद पिता कभी भी उसकी पिटाई कर देता था। किसी के भी आगे उसे डांट देता था।

सुबह चार बजे से नहा धोकर ‘राम’ नाम का भजन करने बैठ जाता था, जिससे उसकी नींद खराब हो जाती थी। इसी क्रम में पिता ने बुधवार को मां शकुन की भी पिटाई लगा दी, जिसके बाद मां, मामा के घर चली गई। घर पर वह और उसका पिता ही अकेला था। इसी क्रम में गुरूवार की सुबह भी उसके पिता ने सुबह चार बजे से नहा कर राम नाम का भजन शुरू कर दिया, जिससे उसकी नींद खराब हो गई तो उसने सब्जी काटने वाला चाकू उठाया और पिता पर भजन करते हमें ही ताबड़तोड़ प्रहार कर दिए, जिससे पिता की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने आरोपित पुत्र के खिलाफ हत्या का प्रकरण कायम कर विवेचना प्रारंभ कर दी है।

पिता अभिरक्षा में दामाद ने किया अंतिम संस्कार

बताया जा रहा है कि उपेंद्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, ऐसे हालातों में समाज और रिश्तेदारों ने आपस में बातचीत कर यह निर्णय लिया कि अंतिम संस्कार उसका दामाद कर दे। अंतत: पुत्र की अनुपस्थिती में दामाद ने अंतिम संस्कार किया।

इनका कहना है

पुत्र ने अपने बयानों में बताया है किवह पिता के रोज-रोज के भजनों से परेशान था। हत्या के दिन भी मृतक भजन कर रहा था। उसके पुत्र की नींद खराब हुई तो उसने गुस्से में हत्या कर दी। पुलिस मामले में सभी एंगलों पर जांच कर रही है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment