रोहतक. हरियाणा के रोहतक के किलोई गांव के शिव मंदिर (Shiv Mandir Kiloi Ganv) में पूर्व सहकारिता राज्य मंत्री व भाजपा नेता मनीष ग्रोवर (Manish Grover) सहित भाजपा के कई नेताओं को ग्रामीणों ने बंधक (hostage-by-farmers) बना लिया है. ये सभी नेता प्रधानमंत्री के केदारनाथ में आयोजित कार्यक्रम को लाइव (PM Live program from Kedarnath) देखने के लिए पहुंचे थे. तीन कृषि कानूनों के विरोध कर रहे किसानों ने इस घटना को अंजाम दिया. किसानों ने मंदिर के बाहर खड़ीं नेताओं की गाड़ियों की हवा निकाल दी. घटना को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया है.

किलोई प्राचीन शिवमंदिर में हालात तनावपूर्ण हो जाने के बाद भाजपा नेता एवं पूर्व सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर को मंदिर से निकालने के लिए सोनीपत से भी पुलिस पहुंच गई है. रोहतक और सोनीपत के एसपी भी मौके पर मौजूद हैं. SP झज्जर वसीम अकरम भी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए हैं. मंदिर के आसपास भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दी है.

रोहतक के किलोई गांव के प्राचीन शिव मंदिर के पास भाजपा नेता और किसान आमने-सामने आ गए, जिसे देखते हुए पुलिस फोर्स तैनात किया गया है. उत्तराखंड में केदारनाथ धाम पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूजा दर्शन समेत कई शिलान्यास और उद्घाटन कार्यक्रम का लाइव प्रसारण हो रहा था. सूचना मिलने पर मंदिर के बाहर किसान एकत्रित हुए और विरोध करने लगे.

मंदिर के ऊपर चढ़े युवा, किसानों ने चारों ओर लगाए ट्रैक्टर-ट्रॉली

किलोई के शिव मंदिर में हालात गंभीर बने हुए हैं. इस दौरान करीब 100 से 150 युवा मंदिर की छत पर पहुंच चुके हैं. किसानों और ग्रामीणों के अलावा आसपास के गांवों के लोग भी बड़ी संख्या में मौके पर पहुंच चुके. मौजूद किसान और ग्रामीण भाजपा के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं. किसानो ने पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर को आधे घंटे में माफी के लिए कहा. ऐसा नहीं करने पर उग्र प्रदर्शन की चेतावनी दी. किसानों ने आह्वान किया कि मंदिर के आगे-पीछे, दाएं और बाएं चारों ओर किसान खुद खड़े हो जाएं. इसके बाद अब किसानों की भीड़ चारों तरफ से मंदिर परिसर को घेर चुकी है और ट्रैक्टर-ट्रॉली भी खड़े कर दिए हैं.

भाजपा के कई बड़े नेता मंदिर परिसर में कैद

शिव मंदिर किलोई में भाजपा के कई बड़े नेता PM मोदी का कार्यक्रम लाइव देखने पहुंचे हैं. इनमें प्रदेश उपाध्यक्ष पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर, भाजपा संगठन मंत्री रविंद्र राजू, किलोई से चुनाव लड़ चुके सतीश नांदल, रोहतक नगर निगम मेयर मनमोहन गोयल, भाजपा जिला अध्यक्ष अजय बंसल, भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष उषा शर्मा, पूर्व विधायक कलानौर से सरिता नारायण, पूर्व महिला जिला अध्यक्ष आशा शर्मा, युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष नवीन ढुल, युवा मोर्चा जिला उपाध्यक्ष मनीष दांगी समेत तमाम नेता शामिल हैं.

एक नेता मांग रहे माफी, दूसरे नेता अड़े 

मंदिर की बालकनी में आ कर भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष मनीष ग्रोवर ने लोगों से बात करने की कोशिश की. हालांकि लोगों की हूटिंग के बीच कुछ भी उनके बोलने के दौरान सुनाई नहीं दिया. इस दौरान भाजपा नेताओं ने हाथ जोड़कर माफी मांगी. सतीश नांदल भी माफी मांग रहे थे लेकिन मनीष ग्रोवर अड़ गए और उन्होंने हाथ नहीं जोड़े. इससे किसान भड़क गए. किसानों ने कहा कि यदि आधे घंटे में मनीष ग्रोवर ने माफी नहीं मांगी तो वह सख्त विरोध करेंगे.

पुलिस को किसी भी हालत से निपटने को तैयार रहने को कहा गया है. वहीं दोपहर दो बजे के करीब मौके पर जिला उपायुक्त (डीसी) कैप्टन मनोज कुमार भी पहुंचे और किसानों से बात की. किसान इस बात पर अड़े हैं कि उनसे हाथ जोड़कर माफी नहीं मांगी गई. मंदिर के बाहर भारी संख्या में ग्रामीण और किसान इकट्‌ठे हो गए हैं. भाजपा नेताओं को मंदिर से निकालने के लिए भारी संख्या में पुलिस बुलाई गई है.

एक मैसेज पर पहुंच गए सैकड़ों किसान

उत्तराखंड में धार्मिक स्थल केदारनाथ धाम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूजा दर्शन समेत कई शिलान्यास और उद्घाटन कार्यक्रम का लाइव कार्यक्रम का प्रसारण प्रदेश के हर जिले के प्रमुख शिव मंदिर में चल रहा है. किलोई के प्राचीन शिव मंदिर में कार्यक्रम का प्रसारण किया जा रहा है. इसमें शामिल होने के लिए भाजपा के कई बड़े चेहरे पहुंचे थे. इसकी भनक किसानों को लगी तो चढूनी ग्रुप जिला अध्यक्ष राजू मकड़ौली ने सोशल मीडिया पर मैसेज वायरल कर किसानों को जल्द मौके पर पहुंचने की अपील की. मैसेज मिलते ही बड़ी संख्या में किसान इकट्‌ठे हुए. किलोई समेत आसपास के ग्रामीण भी वहां जमा हो गए.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment