गुजरात के राजकोट में ‘मुस्लिम’ युवती से इश्क बाजी पड़ी महंगी, भाई ने ‘पीट-पीट’ कर उतारा ‘मौत’ के घाट

शिक्षागुजरात के राजकोट में 'मुस्लिम' युवती से इश्क बाजी पड़ी महंगी, भाई ने 'पीट-पीट' कर उतारा 'मौत' के घाट

गुजरात के राजकोट में हैदराबाद जैसी घटना घटी है। कुछ दिन पहले हैदराबाद में एक युवक की बीच सड़क पर हत्या कर दी गई थी। क्यों की उसने दूसरे धर्म की लड़की से शादी की थी जो लड़की के भाई को पसंद नहीं आया।

अब राजकोट में ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां 22 साल के मिथुन ठाकुर की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। उसने भी 18 साल की सुमैया कादिवार को प्रेम जाल में फंसाया था। 


जानकारी के मुताबिक, बिहार का मूल निवासी मिथुन ठाकुर राजकोट में रहकर एक स्थानीय कारखाने में काम करता था। वह जंगलेश्वर मेन रोड स्थित राधा कृष्ण सोसायटी में रहता था। इसी सोसायटी में 18 साल की सुमैया कादिवार भी रहती थी। दोनों के बीच पिछले कुछ महीनों से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। हालाकि लड़की के परिजनों का आरोप है कि मिथुन ठाकुर लड़की को परेशान कर रहा था। 


मौत से पहले हुई थी नोकझोंक 
जानकारी के मुताबिक, बीते सोमवार को मिथुन ठाकुर ने सुमैया को फोन किया। यह फोन सुमैया के भाई साकिर ने उठाया। इसके बाद दोनों के बीच काफी नोकझोंक हुई। थोड़ी ही देर बाद साकिर तीन अन्य लोगों के साथ मिथुन के घर पहुंच गया। इसके बाद सभी ने मिलकर मिथुन की पिटाई कर दी। 

पिटाई के बाद साकिर मिथुन के घर से बाहर आ गया। पड़ोसियों ने मिथुन को बेहोश देखा तो उसे अस्पताल में भर्ती कराया। जहां ब्रेन हेमरेज के कारण उसी मौत हो गई।

सुमिया के माता-पिता तलाकशुदा हैं और उसकी मां भी एक निजी कंपनी में मजदूरी करती हैं।

वहीं मिथुन ठाकुर और उसका पिता बिपिन राजकोट में रहते थे और एक कारखाने में काम करते थे।

भक्तिनगर थाने के निरीक्षक एलएल चावड़ा ने कहा, ‘हमने पीड़ित के पिता की शिकायत ली है और साकिर और उसके एक साथी को गिरफ्तार किया है.

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles