14.6 C
London
Wednesday, June 12, 2024

दिल्ली में चला योगी का बुलडोजर, रोहिंग्या शरणार्थियों के कैंप तोड़ खाली कराई 150 करोड़ की संपत्ति

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

राजधानी दिल्ली (Delhi) के मदनपुर खादर इलाके में उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) ने बड़ी कार्रवाई की है. यहां पर यूपी सरकार की जमीन पर हुए अवैध कब्जे को गुरुवार को ढहा दिया गया. सिंचाई विभाग की जमीन पर रोहिंग्या कैंप (Rohingya Camp) लगाए गए थे, जिन्हें बुल्डोज़र से तोड़ा गया.

मदनपुर खादर इलाके में सुबह चार बजे से ही बुल्डोज़र चलाकर एक्शन लिया गया. यहां करीब 5.21 एकड़ भूमि पर अवैध कब्जा किया गया था, जिसे अब अतिक्रमण मुक्त किया गया है. इस ज़मीन की कीमत करीब 150 करोड़ रुपये बताई जा रही है. 

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लगातार राज्य में अवैध निर्माण को ढहाया जा रहा है, पिछले कुछ वक्त में कई जगह ये एक्शन देखा गया है. बता दें कि दिल्ली में उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग की कई हिस्सों में ज़मीनें हैं, ये ओखला, जसोला, मदनपुर खादर, आली, सैदाबाद, जैतपुर, मोलरवंद और खुरेजी खास में हैं.  

‘आगे भी लिया जाएगा बड़ा एक्शन’

यूपी सरकार में जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह द्वारा भी इस एक्शन का वीडियो ट्वीट किया गया है. मंत्री ने लिखा, ‘दिल्ली में फिर से चला योगी का बुल्डोजर, योगी सरकार की दिल्ली में बड़ी कार्रवाई’. जानकारी के मुताबिक, आने वाले वक्त में अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत शीघ्र ही और बड़े एक्शन लिए जाएंगे.

दिल्ली के कालिंदी कुंज मेट्रो स्टेशन इलाके के पास बड़ी संख्या में रोंहिग्या शरणार्थी रुके हुए हैं. यहां पर झुग्गी बस्तियां, कैंप बनाए गए हैं. अभी हाल ही में कुछ वक्त पहले इन इलाकों में आग भी लग गई थी, जिनमें कई झुग्गियां जल गई थी और भारी नुकसान हुआ था.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here