5.4 C
London
Tuesday, February 27, 2024

आजमगढ़ में प्रेमी ही निकला ‘कातिल’, टुकड़े कर कुएं में ‘शव’ फेंका

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

श्रद्धा हत्याकांड के बाद एक और दिल दहला देने वाले मामले का खुलासा हुआ है. यह मामला उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ का है. 15 नवंबर को यहां एक युवती का शव बरामद किया गया था. पुलिस ने जब मामले की जांच शुरू की तब कई बड़े खुलासे होने लगे. जांच में पता चला है कि इस युवती को उसके ही पूर्व प्रेमी ने मौत के घाट उतारा था और बाद में लाश के टुकड़े कर कुएं में फेंक दिए. हत्या के मामले में आरोपी प्रिंस यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है. 

पुलिस ने बताया कि प्रिंस अपनी पूर्व प्रेमिका आराधना की शादी दूसरे व्यक्ति से होने को लेकर नाराज था, इसलिए उसने उसकी हत्या कर दी. बड़ी बात यह है कि इस साजिश में उसके माता-पिता, बहन, मामा, मामी, ममेरा भाई और उसकी पत्नी भी शामिल थे. पुलिस को इस घटना का पता तब चला जब 15 नवंबर को कुछ स्थानीय लोगों ने पसचिमी गांव के बाहरी इलाके में स्थित एक कुएं के अंदर क्षत-विक्षत लाश देखी. 

9 नवंबरकोहुईआराधनाकीहत्या

आजमगढ़ पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया था कि आराधना के रूप में पहचानी गई पीड़िता का शव कुएं में पाया गया था, जोकि दो से तीन दिन पुराना लग रहा था. आरोपी प्रिंस 9 नवंबर को आराधना को बाइक से मंदिर ले गया था. जब वे वहां पहुंचे तो उसने सर्वेश की मदद से गन्ने के खेत में उसका गला घोंट दिया. पुलिस ने बताया कि उसके शव को छह हिस्सों में काटा गया था.

पुलिसफायरिंगमेंघायलहुआप्रिंस

शव के टुकड़े कर उन्हें एक पॉलीथिन बैग में लपेट कर एक कुएं में फेंक और सिर के हिस्से को कुछ दूर एक तालाब में फेंक दिया था. पुलिस ने आरोपी प्रिंस यादव को 19 नवंबर की रात को गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस ने बताय कि जब उसे आगे की कार्रवाई के लिए ले जाया जा रहा था तो उसने पुलिस टीम पर गोली चलाई और जवाबी फायरिंग में प्रिंस घायल हो गया. पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किया गया बांका, लकड़ी का बोटा, तमंचा, कारतूस और अन्य सामान भी बरामद कर लिया है. 

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img