नई दिल्ली। 15 अगस्त 2021 को अफ़ग़ानिस्तान (Afghanistan) के राष्ट्रपति अशरफ गनी (Ashraf ghani) देश छोड़कर भाग गए और एक बार फिर से अफगानिस्तान की राजधानी काबुल (Kabul) का शासन तालिबान (Taliban) के पास चला गया है। भारत (India) का भी अफगानिस्तान से खास कनेक्शन रहा है। अफगानिस्तान लोगों के बीच भी हिंदी सिनेमा को लेकर खूब क्रेज देखा जाता है। ज्यादातर हिंदी फिल्मों की शूटिंग अफगानिस्तान में हुई है। जिनमें से एक फिल्म ‘खुदा गवाह’ थी। इस फिल्म की शूटिंग को अफगानिस्तान में शूट किया गया था। इस फिल्म में अभिनेता अमिताभ बच्चन और श्रीदेवी लीड रोल में थे। अफगानिस्तान में दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन की तगड़ी फैन फॉलोइंग देखने को मिलती थी।

हिंदी सिनेमा पसंद किया जाता था अफगानिस्तान में

फिल्म ‘खुदा गवाह’ की शूटिंग 1991-92 में अफगानिस्तान के मजार-ए-शरीफ में फिल्म की शूटिंग हुई थी। जिसके बाद अमिताभ बच्चन ने एक इटंरव्यू दिया था। साल 2013 को दिए इंटरव्यू में अमिताभ बच्चन ने बताया था कि सोवियत संग ने कुछ समय पहले ही नजीबुल्लाह अहमदजई को सत्ता सौंपी थी। खास बात ये थी कि वो हिंदी सिनेमा के फैन थे। अमिताभ बच्चन ने इंटरव्यू में बताया था कि वो उनसे मिले थे और उन्हें शाही सम्मान दिया था। वो होटल में नहीं रहे लोग ने उनके लिए अपने घर छोड़ दिए थे और छोटे मकान में शिफ्ट हो गए थे।

अमिताभ बच्चन की सुरक्षा दी आधी एयरफोर्स

फिल्म ‘खुदा गवाह’ की शूटिंग के दौरान फिल्म अमिताभ बच्चन को तत्कालीन राष्ट्रपति ने उनकी सुरक्षा के लिए आधी एयरफोर्स लगा दी थी। खुदा गवाह अफगानिस्तान में सबसे ज्यादा देखी जाने वाली फिल्म थी। बताया जाता है बिग बी की मां तेजी बच्चन को शूटिंग के दौरान बेटे अमिताभ बच्चन और श्रीदेवी की काफी चिंता सता रही थी। तेजी बच्चन फिल्म मेकर्स से भी बहुत गुस्सा थीं। उन्होंने कहा था कि अगर उनेक बच्चों को कुछ हो या तो।

अमिताभ बच्चन के लिए रोक दी थी लड़ाई

अफगानिस्तान के राजदूत रहे शाइदा मोहम्मद अब्दाली ने भारत में एक इंटरव्यू में कहा था कि अफगानिस्तान में अमिताभ बच्चन को लोग बहुत चाहते थे। यही नहीं अफगानिस्तान में अमिताभ बच्चन को शाही सम्मान से सम्मानित किया गया था। आपको ये बात जानकर हैरानी होगी कि जब अमिताभ अफगानिस्तान गए थे।

तब अफगानिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति नजीबुल्लाह (Nazibullah) से उनकी बेटी ने रिक्वेस्ट की थी कि वो एक दिन के लिए मुजाहिदीन (Mujahideen) से लड़ाई रोकने की बात करें। ये बात सुनकर राष्ट्रपति ने मुजाहिदीन से अपील की थी कि देश में सुपरस्टार अमिताभ बच्चन(amitabh bacchan) आए हैं तो लड़ाई रोक दें ताकि वो आराम से शहर घूम सकें। हालाकि बाद में नजीबुल्लाह मुजाहिदीन से जंग हार गए और उनकी दर्दनाक हत्या की गई साथ ही शव को बीच चौराहे पर 4 दिन तक लटका के रखा गया!

अफगानिस्तान में अमिताभ बच्चन को किया गया सम्मानित

आपको बता दें फिल्म ‘खुदा गवाह’ में अमिताभ बच्चन ने पठान का रोल निभाया था। साथ ही श्रीदेवी ने उनकी प्रेमिका और पत्नी का रोल निभाया था। फिल्म में श्रीदेवी ने डब्ल रोल निभाया था। फिल्म शिल्पा शिरोडकर, डैनी डेंजोंगप्पा, किरन कुमार, जैसी कई बड़ी हस्तियां नज़र आई थीं। इस फिल्म के निर्देशक मुकुल एस.आनंद हैं। जो साल 1992 में रिलीज हुई थी।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment