पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत के पीएम नरेंद्र मोदी को टीवी डिबेट के जरिए बहस की चुनौती दी है। इमरान ने कहा है कि इस तरह से दोनों देश एक-दूसरे के बीच के विवाद सुलझा सकते हैं। गौरतलब है कि भारत ने पांच अगस्त 2019 को कश्मीर से विशेष दर्जा छीनते हुए अनुच्छेद 370 को रद्द कर दिया था। इसके बाद से ही दोनों देशों के राजनयिक संबंध निचले स्तर पर हैं। इससे पहले भी दोनों देश कश्मीर को लेकर तीन जंग लड़ चुके हैं।

इमरान खान ने रूसी मीडिया समूह रशियन टाइम्स को दिए इंटरव्यू में कहा, “मुझे नरेंद्र मोदी के साथ टीवी पर डिबेट में हिस्सा लेना अच्छा लगेगा।” उन्होंने कहा कि यह भारतीय उपमहाद्वीप के अरबों लोगों के लिए फायदेमंद होगा, क्योंकि इससे दोनों देश अपने बीच के मसलों को चर्चा से खत्म कर सकते हैं। 

गौरतलब है कि भारत लगातार पाकिस्तान से कहता रहा है कि आतंकवाद और बातचीत साथ नहीं चल सकतीं। भारत लगातार पाकिस्तान को आतंकवाद पर लगाम लगाने की चेतावनी भी दे रहा है। खासकर ऐसे संगठनों को जिन्हें संयुक्त राष्ट्र की तरफ से आतंकी संगठन करार दिया गया है।  

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की ओर से दिए गए इस प्रस्ताव पर अभी भारत की तरफ से बयान नहीं जारी किया गया है।

हालांकि, माना जा रहा है कि भारत ऐसी किसी भी मांग को मानने से पहले 2008 मुंबई आतंकी हमलों, पठानकोट, उड़ी और पुलवामा हमलों के दोषियों को सजा देने की मांग उठा सकता है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment