16.6 C
London
Thursday, June 13, 2024

‘अगर शाह रुख खान बीजेपी नेता होते तो उनके बेटा की ड्रग्स शक्कर में बदल जाती’- आर्यन खान पर महाराष्ट्र के मंत्री का बड़ा बयान

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

बॉलीवुड अभिनेता शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान का जब से ड्रग्स केस में नाम आया तब से फिल्मी सितारों के अलावा देश की कई बड़ी हस्तियां भी इस पूरे मामले में अपनी प्रतिक्रिया दे रही हैं। कई राजनेता भी पूरे मामले में अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। अब महारष्ट्र के मंत्री और एनसीपी (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी) के नेता छगन भुजबल ने भी आर्यन खान के जेल में रहने और जमानत मिलने पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

आर्यन खान को मुंबई से गोवा जा रहे एक क्रूज शिप में छापेमारी के दौरान गिरफ्तार किया था। ऐसे में छगन भुजबल ने मामले की जांच कर रही एजेंसी एनसीबी (नाकरोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो) की भूमिका पर सवाल खड़े किए हैं। न्यूज एजेंसी पीटीआई की खबर के अनुसार छगन भुजबल ने कहा है कि अगर शाह रुख खान भारतीय जनता पार्टी में शामिल होते तो आर्यन खान को मिला ड्र्रग्स शक्कर में बदल जाता।

छगन भुजबल ने एनसीबी की भूमिका में सवाल खड़े करते हुए कहा है कि गुजरात के मुंद्रा पोर्ट में ड्रग्स की एक बड़ी खेप जब्त की गई थी, लेकिन इस मामले की जांच करने के बजाय, केंद्रीय एजेंसी एनसीबी शाह रुख खान के पीछे पड़ी है। छगन भुजबल ने चुटकी लेते हुए कहा, ‘अगर शाह रुख खान भाजपा में शामिल हो जाएं तो ड्रग्स शक्कर बन जाएंगे।’ बता दें कि सुपरस्टार शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान ड्रग्स केस के चलते मुंबई के आर्थर रोड जेल में बंद हैं।

आर्यन खान की दो बार जमानत याचिका खारिज हो चुकी है, जिसके बाद अब उन्होंने बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। आर्यन खान को जमानत ना देने के पीछे एनसीबी ने कोर्ट को उनके व्हाट्सएप चैट सबूत के तौर पर पेश किए हैं। जिसके बाद अब आर्यन की तरफ से एनसीबी पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। दरअसल, बुधवार को स्पेशल कोर्ट ने आर्यन खान की जमानत याचिका खारिज कर दी थी। जिसके बाद उन्होंने हाई कोर्ट में अपनी जमानत की अपील दाखिल की हैं, हाई कोर्ट ने आर्यन केस को सुनावाई के लिए 26 अक्टूबर का दिन दिया है।

ई-टाइम्स की रिपोर्ट्स के अनुसार आर्यन खान की तरफ से याचिका में कहा गया है कि उन्हें फंसाने के लिए एनसीबी ने उनकी व्हाट्सएप चैट्स की व्याख्या गलत की है, जो कि पूरे तरीके से अनुचित है। आर्यन की ओर से ये भी कहा गया है कि उनके पास से एनसीबी को किसी भी तरह का कोई ड्रग नहीं मिला है और अरबाज मर्चेंट और आचित कुमार के अलावा उनका किसी भी अन्य आरोपी से कोई संबंध भी नहीं है। बता दें कि किला कोर्ट ने आर्यन को 30 अक्टूबर तक के लिए हिरासत में भेज दिया है। 

- Advertisement -spot_imgspot_img

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here