हिंदू भाई-बहन डरें नहीं, शेख हसीना-अवामी लीग आपके साथ है, बांग्लादेश की पीएम ने गृह मंत्री को दिया ये निर्देश

मनोरंजनहिंदू भाई-बहन डरें नहीं, शेख हसीना-अवामी लीग आपके साथ है, बांग्लादेश की पीएम ने गृह मंत्री को दिया ये निर्देश

ढाका: बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख़ हसीना (Sheikh Hasina on Violence) ने मंगलवार को गृह मंत्री को उन लोगों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई शुरू करने का निर्देश दिया है, जिन्होंने धर्म का इस्तेमाल कर हाल में हिंसा भड़कायी थी. हसीना ने लेागों से तथ्यों की जांच किये गये बगैर सोशल मीडिया (Social Media) पर किसी भी चीज पर विश्वास नहीं करने को कहा.

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि 50 साल पहले पाकिस्तान से बांग्लादेश की आजादी का विरोध करने वाले घरेलू तत्व अब भी हिंसा भड़काने के लिए जहर उगल रहे हैं. नफरत भरे विमर्श और पाखंड फैला रहे हैं. पिछले बुधवार से बांग्लादेश में हिंदुओं के मंदिरों पर हमले बढ़ गये हैं.

दरअसल, दुर्गा पूजा समारोहों के दौरान सोशल मीडिया पर कथित तौर पर ईशनिंदा करने वाला एक पोस्ट देखने को मिला था. रविवार देर रात बांग्लादेश में एक भीड़ ने 66 मकानों को क्षतिग्रस्त कर दिया और कम से कम 20 मकानों को आग के हवाले कर दिया.

कैबिनेट सचिव खांडकर अनवारुल इस्लाम के हवाले से ढाका ट्रिब्यून अखबार ने अपनी खबर में कहा है कि प्रधानमंत्री हसीना ने मंगलवार को साप्ताहिक कैबिनेट बैठक के दौरान गृह मंत्री असदुज्जमान खान को उन लोगों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई शुरू करने का निर्देश दिया, जिन्होंने धर्म का इस्तेमाल कर हिंसा भड़कायी थी.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये हसीना ने की बैठक

अपने आधिकारिक आवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये बैठक में शामिल हुईं प्रधानमंत्री ने देश के लोगों से तथ्यों की जांच किये बगैर सोशल मीडिया पर किसी भी चीज पर विश्वास नहीं करने को कहा. उन्होंने गृह मंत्रालय को सतर्क रहने और ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए कदम उठाने का निर्देश दिया.

स्थानीय मीडिया की खबरों के मुताबिक अलग-अलग हमलों में हिंदू समुदाय के छह लोग मारे गये हैं, लेकिन इस आंकड़े की स्वतंत्र रूप से पुष्टि नहीं की जा सकी है. गृह मंत्री ने कहा, ‘कोमिला घटना की जांच की जा रही है.’ उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय आरोपियों को न्याय के दायरे में लाने के लिए काम कर रहा है.

शेख हसीना बोलीं- पीड़ित परिवारों को हरसंभव मदद दें

शेख हसीना ने पीड़ित परिवारों को हरसंभव सहायता मुहैया करने की घोषणा की है. विदेश मंत्रालय के बयान में यह रेखांकित किया गया है कि बांग्लादेश सरकार इन घटनाओं की निंदा करती है और हिंदू समुदाय के अंदर और बाहर से आयी प्रतिक्रिया का गंभीर संज्ञान लेती है.

मंत्रालय ने कहा कि सरकार ने हिंदू धर्म स्थलों और प्रतिमाओं की सुरक्षा के लिए पुलिस व प्रशासन की मदद को लेकर शीघ्रता से कदम उठाते हुए अर्द्धसैनिक बल तैनात किये थे. पुलिस ने देश के विभिन्न हिस्सों में 450 संदिग्धों को गिरफ्तार किया था तथा और अधिक संदिग्धों को पकड़ने के लिए तलाश जारी है.

अब तक 71 मामले दर्ज किये गये, 450 लोग गिरफ्तार

पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘कुल 71 मामले दर्ज किये गये हैं और अब तक 450 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.’ विदेश कार्यालय ने एक बयान में दावा किया बांग्लादेश शायद एकमात्र ऐसा देश है, जहां सार्वजनिक अवकाशों पर सभी धर्मों के बड़े धार्मिक उत्सव मनाये जाते हैं.

इस बीच, सत्तारूढ़ अवामी लीग पार्टी हालिया सांप्रदायिक हिंसा के खिलाफ मंगलवार को देशभर में सौहार्द्र रैलियां कर रही है और शांतिपूर्ण जुलूस निकाल रही है. अवामी लीग के महासचिव ओबैदुल कादिर ने यहां एक रैली में कहा, ‘डरें नहीं, हिंदू भाई-बहन. शेख हसीना और अवामी लीग आपके साथ हैं.’

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles