पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम को अपने भाई के साथ लाहौर के हाई परफार्मेंस सेंटर (HPC) में आना महंगा पड़ गया. HPC में केवल राष्ट्रीय क्रिकेटरों, फर्स्ट क्लास क्रिकेटरों और जूनियर क्रिकेटरों को ट्रेनिंग, प्रैक्टिस और फिटनेस की सुविधाओं का यूज करने की अनुमति होती है, लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) की गाइडलाइंस के विपरीत बाबर आजम अपने भाई सफीर को यहां ले आए.

सफीर यहां नेट प्रैक्टिस करते देखे गए, जिसके बाद सोशल मीडिया पर बाबर की जमकर खिंचाई हुई. PCB ने भी बाबर को इस मामले में समझाइश दी है.

सफीर ने हाल ही में एक वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया. इस वीडियो में वह बाबर आजम की निगरानी में नेट प्रैक्टिस करते नजर आए. सफीर बल्लेबाजी का अभ्यास कर रहे थे, उनके सामने पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शहनवाज दहानी गेंदबाजी करते देखे गए थे.

इस वीडियो के सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर जमकर हंगामा हुआ. दरअसल, सफीर अभी तक न तो फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेल पाए हैं और न ही किसी तरह के जूनियर क्रिकेट में उन्होंने अपना प्रभाव छोड़ा है. महज पाकिस्तान के कप्तान के भाई होने के नाते उन्हें HPC में एंट्री मिलने पर लोगों ने PCB और बाबर आजम को जमकर खरी खोटी सुनाई. तनवीर अहमद जैसे पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने भी इसे गलत बताया.

सोशल मीडिया पर हुई इस आलोचना के बाद PCB ने बाबर को समझाइश भी दी है. PCB के अधिकारी ने इस मुद्दे पर बात करते हुए बताया, ‘बाबर तीन से चार दिन पहले अपने भाई के साथ यहां आए थे. बाद में उनके भाई ने यहां नेट प्रैक्टिस भी की, जो कि नोटिस में लाया गया.

वह हमारी राष्ट्रीय टीम के कप्तान हैं, इसलिए उन्हें शांति से इस मुद्दे पर समझाइश दी गई है कि दोबारा ऐसा नहीं होना चाहिए. उन्होंने भी इस बात को विवेक के साथ स्वीकार किया है.’

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment