रूस लगातार छठे दिन यूक्रेन के शहरों पर बमबारी कर रहा है। कीव और खारकीव में रूसी सेना ने हमले और भी तेज कर दिए हैं। भारत में यूक्रेन के राजदूत डॉ. इगोर पोलिखा ने अपने देश के खिलाफ रूस के सैन्य अभियान की तुलना ‘राजपूतों के खिलाफ मुगलों द्वारा किए गए नरसंहार’ से की है।

भारत में यूक्रेन के राजदूत डॉ. इगोर पोलिखा ने मंगलवार को कहा, “यह मुगलों द्वारा राजपूतों के खिलाफ किए गए नरसंहार जैसा है। हम दुनिया के सभी प्रभावशाली नेताओं, जिनमें पीएम मोदी भी शामिल हैं, से रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के खिलाफ बमबारी और गोलीबारी रोकने के लिए हर संसाधन का इस्तेमाल करने को कह रहे हैं।”

डॉ. इगोर पोलिखा ने कहा, “रूस को यूक्रेन में घुसपैठ करते 6 दिन हो गए हैं। हमारी सेना दुनिया की सबसे ताकतवर सेनाओं में से एक को रोकने में सफल रही है। दुर्भाग्य से इस युद्ध में रूस-यूक्रेन सैनिकों के साथ-साथ बड़ी संख्या में नागरिकों को भी जान गंवानी पड़ रही है।” पोलिखा ने भारतीय छात्र नवीन शेखरप्पा की मौत पर दु:ख जताया, जिनकी रूसी सेना की गोलीबारी में खारकीव में जान चली गई। उन्होंने कहा कि हमले पहले सैन्य स्थलों तक ही सीमित थे, लेकिन अब नागरिक क्षेत्रों में भी हो रहे हैं।

दूसरी तरफ, यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की है। मंगलवार को चार्ल्स मिशेल ने ट्वीट किया, “निर्दोष नागरिकों के खिलाफ अंधाधुंध रूसी हमलों के कारण आज खारकीव में एक भारतीय छात्र की मौत पर अपनी संवेदना व्यक्त की।”

यूक्रेन ने रूस के 200 सैनिकों को पकड़ने का दावा किया

रूसी सेना यूक्रेन की राजधानी कीव पर अब मिसाइलों से हमले करने लगी है। कीव पर रूसी सेना रह-रह हमले कर रही है। यूक्रेन की मीडिया के अनुसार एक मिसाइल विस्फोट खार्किव ओब्लास्ट सरकार के मुख्यालय के ठीक सामने हुआ। इस बीच, यूक्रेन ने दावा किया है कि उसके सैनिकों ने रूस के 29 लड़ाकू विमानों को नष्ट कर दिया है। वहीं करीब 200 रूसी सैनिकों को पकड़ा गया है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment