[email protected]

हरियाणा: 67 साल के बुजुर्ग ने 19 साल की युवती से की लव मैरिज, गांव वाले बोले- दाल में कुछ काला है

- Advertisement -
- Advertisement -

67 साल के बुजुर्ग के प्रेम विवाह (Love Marriage) मामले पर बीबीपुर गांव के लोगों ने बैठक कर जताई नाराजगी. ग्रामीणों ने पलवल तथा मेवात के पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों से मुलाकात कर बेमेल शादी की सच्चाई पता लगाकर मायके वालों को लड़की दिलवाई जाए. अगर लड़की नहीं मिली तो महापंचायत (Maha Panchayat) करने से लेकर किसी भी हद तक जाकर लड़की लेने की बात कही है. उन्होंने यह भी कहा कि इस बेमेल शादी की चर्चा दूर-दूर तक हो रही है, जिससे गांव की बदनामी हो रही है. साथ ही शरीयत भी इस बात की इजाजत नही देता की शादीशुदा लड़क़ी बिना तलाक किसी दूसरे व्यक्ति से शादी करे. लड़की मेवात जिले के बीबीपुर गांव की है, तो बुजुर्ग पति पड़ोसी जिला पलवल जिले के हुंचपुरी गांव का है.

मेवात क्षेत्र में 67 साल के बुजुर्ग ने 19 साल की लड़की से प्रेम विवाह चर्चाओं में है. क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है. बीबीपुर गांव के लोगों ने इस मामले पर गांव की छोटी मस्जिद के पास मौजिज लोगों की एक बैठक हुई है. बैठक में इस विवाह पर नाराजगी व्यक्त करते हुए बुजुर्ग के प्रेम विवाह मामले में जिला प्रशासन से जांच की मांग की है. मौजूद लोगों ने कहा कि जल्दी ही इस मामले में सामाजिक बुद्धिजीवी और राजनेताओं से मिलकर एक महापंचायत का आयोजन जल्द किया जाएगा.

बीबीपुर गांव के लोगों ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा बुजुर्ग के प्रेम विवाह मामले में हाईकोर्ट ने अच्छा फैसला सुनाया है, जो जांच के आदेश दे दिए. इस मामले में गहनता से तफ्तीश की जाए. ग्रामीण बशीर ने कहा कि मेवात में 36 बिरादरी के लोग हिंदू-मुस्लिम लोग आज आपसी प्रेमभाव से रहते हैं. हमने आज तक इस तरह की घटना नहीं सुनी और ना ही देखी. इस तरह की घटनाओं से समाज ही नहीं बल्कि इस्लाम को भी बदनाम किया है.

उन्होंने कहा कि 19 साल की लड़की शादीशुदा होते हुए भी शरीयत को तोड़ा है. मौजूद लोगों ने कहा कि 67 साल के बुजुर्ग के आस औलाद से लेकर परिवार है. इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने से पहले शर्म आनी चाहिए थी. आज बुजुर्ग की वजह से हमारा मेवात दुनिया भर में शर्मसार हुआ है. इतना ही नहीं मेवात के लोगों ने 67 साल के बुजुर्ग को आसाराम की संज्ञा दे डाली. आसाराम और 67 साल के बुजुर्ग में कोई अंतर नहीं है.

उन्होंने कहा कि जिस तरह से आसाराम को सजा हुई है, उसी तरह से 67 साल के बुजुर्ग की जांच कर सजा होनी चाहिए. वहीं उन्होंने इस मामले को लेकर पलवल एसपी दीपक गहलावत से मुलाकात कर मामले को संज्ञान में लाया तो एसपी साहब ने कार्रवाई का भरोसा दिलाया है. 67 साल के बुजुर्ग ने 19 साल की लड़की से कोर्ट मैरिज मामले पर गांव के लोगों ने दावा किया है कि लड़की पर किसी प्रकार का दबाव बनाया गया है. जिसमें जिला प्रशासन से मांग की है कि इसका दूध का दूध और पानी का पानी होना चाहिए.

क्या है मामला

पलवल जिले के हुंचपुरी गांव के 67 साल के बुजुर्ग के बारे में बताया जा रहा है कि वह लंबे समय से नक्श, ताबीज देने का काम करता है और जिस 19 साल की लड़की से बुजुर्ग ने शादी रचाई है उस लड़की की माता नक्श, ताबीज देने वाले ढोंगी के पास पिछले काफी सालों से आती जाती रहती है. बुजुर्ग तांत्रिक तक बताया जा रहा है. बीबीपुर गांव के लोगों को यही शक है की महिला व उसकी बेटी को बुजुर्ग ने अपने झांसे में लेकर उनसे किसी दबाव में जबरन शादी रचाई है. अगर इस मामले की गहनता से त्वरित जांच की जाए तो सच्चाई उजागर हो सकती है. कुल मिलाकर अब यह बेमेल शादी खूब सुर्खियां बटोर रही है और लड़की के गांव के लोगों ने अब इस मामले में एकजुटता दिखाते हुए शादी रचाने वाले बुजुर्ग के खिलाफ सख्त कार्रवाई करवाने का मन बना लिया है.

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×