उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश का असर दिखने लगा है. कानपुर में अजान के विरोध में शनिवार को हनुमान जयंती पर चौराहे पर शुरू किया गया भगवान हनुमान चालीसा का पाठ बंद हो गया.

मंगलवार को भगवान हनुमान का दिन माना जाता है, लेकिन सीएम योगी के फरमान के कारण इस दिन चौराहे पर लाउडस्पीकर बंद रहे.

मंगलवार को हनुमान चालीसा का पाठ नहीं किया गया. जबकि शनिवार को आयोजक अभिमन्यु सक्सेना ने बलखंडेश्वर चौराहे पर हनुमान चालीसा का पाठ करके सीधे-सीधे ऐलान किया था कि जबतक अजान होगी हम भी ऐसे ही चौराहे पर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे, लेकिन सीएम योगी के फरमान के बाद अभिमन्यु के सुर बदल गए हैं.

सोमवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने बगैर अनुमति के किसी भी तरह के नए धार्मिक आयोजनों पर रोक लगाने के आदेश दिए थे. इसीलिए आयोजको ने मंगलवार को चौराहे पर कोई हनुमान चालीसा का पाठ नहीं किया. चौराहे पर लगे लाउडस्पीकर बंद पड़े रहे. इस मामले पर अभिमन्यु सक्सेना का कहना है कि हम अनुशासित लोग है.

अभिमन्यु सक्सेना ने कहा, ‘हमें एक सन्देश देना था, क्योकि अजान में कोई नियम का पालन नहीं होता, सरकार हमारी है, माननीय मुख्यमंत्री जी का जो आदेश है हम मानेंगे, हम नियम मानने वाले लोग हैं लेकिन अजान को भी नियम का पालन करना चाहिए.’

वहीं इस मामले पर ज्वाइंट कमिशनर आनंद प्रकाश तिवारी का कहना है कि कानपुर में कोई ऐसी समस्या नहीं है, हम शासन के नियमो का पालन करेंगे.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment