अग्निपथ योजना का एक तरफ जहां विरोध हो रहा है, वहीं भाजपा के नेता, मंत्री और कार्यकर्ता इस योजना के फायदे गिनाने में लगे हैं। भाजपा दिल्ली की तरफ से लोगों के वीडियो बनावाकर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है, जिसमें लोग योजना की तारीफ कर रहे हैं। हालांकि योजना की तारीफ करने वाले लोगों की उम्र को लेकर लोग भाजपा पर कटाक्ष कर रहे रहे हैं।

भाजपा दिल्ली की तरफ से कई वीडियो शेयर किए गये हैं, जिसमें परचून वाले, गुटखा बेचने वाले (अधिक उम्र के व्यक्ति) अग्निपथ योजना की तारीफ कर रहे हैं। अब इस वीडियो को लेकर सोशल मीडिया पर लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। पत्रकार प्रशांत कुमार ने लिखा कि ‘ये वाले अग्निवीर सबसे अद्भुत हैं। ट्वीट करने वाले को पदक दिया जाए।’

वरिष्ठ पत्रकार ओम थानवी ने लिखा कि ‘चार दिन में गुटका बेचने वाले से तस्दीक करवाने की नौबत आ गई? जब मंत्रियों के प्रलाप फेल हो गए, सेना में ठेके के रोजगार वाले पेचीदा मुद्दे पर इन भोले ग़रीबों को मोहरा क्यों बना रहे हैं?’ कौशिक राज ने लिखा कि ‘ये वीडियो डालने का आइडिया जिसका भी था, वो बहुत सही इंसान है। बस ऐसे ही वीडियो डाल कर ये लोग फिर से तपस्या में कमी करवा के ही मानेंगे।’

कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला ने लिखा कि ‘हमारे अग्निवीरों को गुटखा बेचने वाला एक आदमी उपदेश दे रहा है कि अग्निपथ योजना कितनी सही है! यह बिल्कुल वैसा ही है जैसे कुछ अभिनेता बता रहे थे कि कैसे नोटबंदी एक मास्टरस्ट्रोक था और कुछ गायकों ने समझाया कि कैसे 12 घंटे के लिए जनता कर्फ्यू COVID को समाप्त करने के लिए एक मास्टरस्ट्रोक था!’

पत्रकार रोहिणी सिंह ने लिखा कि ‘दिल्ली बीजेपी ये कॉमिक शो क्यों चला रही है?’ विपिन यादव ने लिखा कि ‘अग्निपथ योजना के नुकसान का जिक्र पूर्व सैनिक अधिकारी कर रहे हैं I फायदों का जिक्र पान वाले कर रहे हैं।’ सपा नेता जूही सिंह ने लिखा कि ‘अद्भुद ,अद्वितीय प्रचार वीर, वीडियो बनाने वाले और शेयर करने वाले ना काबिल लोगों को साधुवाद।’

बता दें कि अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे छात्र इसे वापस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं। वहीं भाजपा की तरफ से लगातार इस योजना के समर्थकों का वीडियो शेयर किया जा रहा है। इसी क्रम में कुछ ऐसे लोगों का भी वीडियो शेयर किया गया है जो अधेड़ उम्र के हैं। इसी को लेकर सोशल मीडिया पर लोग भाजपा पर तंज कस रहे हैं। गौरतलब है कि सेना ने अग्निपथ योजना को वापस लेने से इंकार कर दिया है और साफ़ किया है कि जिन लोगों का दंगा करने में नाम होगा या उनके नाम पर FIR दर्ज होगी, उन्हें सेना में भर्ती होने का मौका नहीं मिलेगाI

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment