पंजशीर में फिर छिड़ा भीषण संग्राम, अज्ञात सैन्य विमानों ने किए तालिबान के ठिकानों पर किए हमले: रिपोर्ट

मनोरंजनपंजशीर में फिर छिड़ा भीषण संग्राम, अज्ञात सैन्य विमानों ने किए तालिबान के ठिकानों पर किए हमले: रिपोर्ट

सोमवार को पंजशीर प्रांत पर तालिबान के कब्जे का दावा करने के बाद आज एक बार फिर यहां जंग तेज होने की खबरें हैं। कुछ रिपोर्ट्स में यह दावा किया जा रहा है कि पंजशीर में तालिबान के ठिकानों पर कुछ अज्ञात सैन्य विमानों के जरिए हवाई हमले किए गए हैं। कुछ विदेशी रिपोर्टरों ने पंजशीर के डिप्टी गवर्नर के हवाले से इलाके में भीषण लड़ाई होने का दावा किया है। 

सोमवार को ही तालिबान ने दावा किया था कि अब तक अजेय रहे पंजशीर प्रांत पर भी उसने पूरी तरह कब्जा कर लिया है। पंजशीर गवर्नर ऑफिस के बाहर तालिबान लड़ाकों के झंडा फहराने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था। 

हालांकि, पंजशीर में नेशनल रेजिस्टेंस फ्रंट का नेतृत्व कर रहे अहमद मसूद ने तालिबान के कब्जे वाले दावे को खारिज किया था। उन्होंने कहा था कि तालिबान के खिलाफ वह तब तक लड़ेंगे जब तक उनके शरीर में खून का आखिरी कतरा बचा रहेगा।

तालिबान ने सोमवार को ऐलान किया कि पंजशीर प्रांत पूरी तरह उसके कब्जे में है। तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह ने एक बयान जारी कर कहा कि इस जीत से हमारा देश पूरी तरह से युद्ध के दलदल से निकल चुका है। बता दें कि 15 अगस्त को काबुल पर कब्जे के बाद से अब तक पंजशीर ही अफगानिस्तान का अकेला प्रांत था, जो तालिबान के नियंत्रण में नहीं था। कई प्रत्यक्षदर्शियों ने पहचान जाहिर न करने की शर्त पर समाचार एजेंसी एपी को बताया कि रविवार रात हजारों तालिबानी लड़ाकों ने पंजशीर के आठ जिलों पर कब्जा किया। 

वहीं, एनआरएफ नेता अहमद मसूद ने इस दावे को खारिज किया। मसूद ने तालिबान के खिलाफ जंग जारी रहने की हुंकार भरते हुए कहा कि हम अजेय हैं और तालिबान के खिलाफ आखिरी बूंद तक हमारे लड़ाके जंग करेंगे। मसूद ने कहा कि मैं अपने खून की आखिरी बूंद तक तालिबान से लड़ता रहूंगा। फेसबुक पेज पर जारी एक ऑडियो संदेश में मसूद ने कहा, ‘हमारी फोर्सेज अब भी पंजशीर में मौजूद हैं और तालिबान के खिलाफ जंग जारी है।’

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles