कुछ लोग गूगल मैप पर ज्ञानवापी मस्जिद का नाम और स्टेटस बदलने की कोशिश कर रहे हैं. ऑनलाइन संयुक्त रूप से लोग इसकी जगह ज्ञानवापी मंदिर करने की कोशिश कर रहे हैं. 

कई दिनों से बीबीसी की डिसइनफॉरमेशन यूनिट के सेराज अली इस कोशिश पर नज़र रख रहे हैं. 

ये कोशिश व्हाट्सएप पर एक मैसेज के ज़रिए शुरू हुई. इस मैसेज को कई ग्रुप्स और सोशल मीडिया पर तेज़ी से शेयर किया गया है.  

इस मैसेज में लोगों से अपील की गई है कि वे गूगल मैप खोलकर उसमें ज्ञानवापी मस्जिद को सर्च करें. और जब ज्ञानवापी मस्जिद दिखाई दे तो उसके नीचे बदलने के सुझाव पर जाकर क्लिक करें और उसकी जगह ज्ञानवापी मंदिर का सुझाव लिखें. 

ये एक तरह का अभियान है और इसका लक्ष्य तब तक ऐसा करना है जब तक गूगल अपनी सेटिंग में ज्ञानवापी मस्जिद को मंदिर नहीं कर देता. 

इस तरह के मैसेज के साथ कभी कभी स्क्रीन रिकॉर्डेड वीडियो भी भेजे जा रहे हैं ताकि आसानी से लोगों को समझाया जा सके. 

गूगल मैप पर ज्ञानवापी मस्जिद के नाम को मंदिर करने का मैसेज जब सोशल मीडिया पर शेयर हुआ तो कुछ दिनों के अंदर ही बेंगलुरु के एक प्रमुख स्कूल ने अपने यहां पढ़े हुए छात्रों को एक ईमेल भेजा. इस ईमेल में मस्जिद का नाम बदलकर मंदिर करने का निर्देश दिया गया था. बाद में स्कूल ने बयान जारी कर ऐसे किसी निर्देश से अपने हाथ पीछे खींच लिए हैं और इसमें मामले में जांच के निर्देश दिए हैं. 

बीबीसी ने इस तरह की कोशिश करने के बारे में गूगल से बात की. गूगल का कहना है कि वो इस मामले की जांच कर रही है और आगे इस तरह के दुरुपयोग को रोकने के लिए सुरक्षा प्रदान कर रही है. 

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment