लखनऊ: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ स्थित अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) में गत बुधवार को पुलिस के सामने ‘सिर तन से जुदा’ और ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे लगाए जाने का मामला सामने आया है।

ये नारे गुस्ताख ए रसूल और भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के बयानों के विरोध में इकठ्ठा हुए छात्रों की भीड़ ने लगाए। इस दौरान जुमे की नमाज पर प्रतिबन्ध लगाने की माँग करने वाली महामंडलेश्वर अन्नपूर्णा गिरी के खिलाफ भी नारे लगाए गए हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस वीडियो के 4 मिनट 50वें सेकेण्ड के बाद भीड़ में मौजूद कई लोग ‘गुस्ताख़-ए-नबी की एक सज़ा, सिर तन से जुदा… सिर तन से जुदा’ के नारे लगा रहे हैं। इस दौरान अलीगढ़ पुलिस प्रशासन भी वहाँ पर मौजूद था। वीडियो में 7वें मिनट पर साफ नज़र आ रहा रहा है कि हंगामे के दौरान अजान शुरू हो जाती है। इसके बाद अजान समाप्त होने तक हंगामा रोक दिया जाता है। इस दौरान कुछ लोगों द्वारा मौके पर ही बैठ कर नमाज पढ़ने के लिए बोला गया।

अजान समाप्त होने के बाद AMU छात्र नेता जानिब हसन ने कहा कि, ‘हम AMU के स्टूडेंट नूपुर शर्मा द्वारा अपने पैगंबर पर दिए गए बयान का विरोध करते हैं। ऐसा पहली और अंतिम बार नहीं हुआ है। भारतीय मीडिया और भाजपा नेता आए दिन मुस्लिमों को निशाना बना रहे हैं।

हम ऐसे मामलों को बर्दाश्त नहीं करेंगे।’ जानिब हसन ने कानपुर दंगे पर कहा कि, ‘नूपुर शर्मा ने दंगे जैसे हालत पैदा किए हैं। पूरे देश के मुस्लिमों में आक्रोश है। हम अपने पैगंबर के खिलाफ बोलने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की माँग करते हैं। जल्द-से-जल्द नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल को गिरफ्तार किया जाए। साथ ही उन पुलिस वालों पर भी कार्रवाई हो, जो सिर्फ मुस्लिमों पर ही कार्रवाई कर रहे हैं।’

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment