गाजियाबाद के संजयनगर सेक्टर-23 में दो पक्षों में भिड़ंत के बाद सांप्रदायिक तनाव फैल गया। हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने मौके पर जाकर नारेबाजी और हंगामा शुरू कर दिया। घटना की जानकारी लगते ही एसपी सिटी कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को शांत कराया।

पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर केस दर्ज कर पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया। जबकि भड़काऊ बयान देने वाले महंत मछेंद्रपुरी के खिलाफ भी धार्मिक भावनाएं आहत करने का केस दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक संजयनगर सेक्टर-23 निवासी रविंद्र सिंह का कहना है कि मंगलवार रात करीब 10 बजे रईसपुर निवासी वसीम 10-12 लोगों के साथ आया और धार्मिक नारे लगाते हुए उनके परिवार पर हमला कर दिया। पथराव व मारपीट में वह, उनका भाई व पत्नी के अलावा सात लोग घायल हो गए। रविंद्र के मुताबिक आरोपियों ने धमकी दी कि वह 17 हत्याएं कर चुके हैं और तीन हत्या उनके परिवार में करनी हैं। भीड़ इकट्ठी होने पर हमलावर मौके से फरार हो गए। घटना की जानकारी लगते ही हिंदू संगठन के कार्यकर्ता संजयनगर सेक्टर-23 पुलिस चौकी पर पहुंच गए और धार्मिक नारे लगाते हुए हंगामा शुरु कर दिया। सूचना पर एसपी सिटी निपुण अग्रवाल, सीओ कविनगर अवनीश कुमार कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और हमलावरों पर कार्रवाई का आश्वासन दिया। करीब दो घंटे हंगामे के बाद लोग शांत हुए।

दूसरे पक्ष ने भी लगाया हमला करने का आरोप
रईसपुर निवासी वसीम का कहना है कि मंगलवार रात करीब साढ़े 10 बजे उनके गांव के अंसाद, फुरकान और वसीम रईसपुर में मस्जिद के पास खड़े थे। वहीं कुछ ही दूरी पर फरियाद व उसके साथी गाड़ी लेकर खड़े थे। फरियाद ने गाड़ी के लिए पेट्रोल लेकर आने को कहा। वसीम का कहना है कि तेल न मिलने पर वह वापस लौट रहे थे। रास्ते में त्यागी मार्केट के पास फरियाद व उसके साथी मिले। उन्होंने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। वसीम के मुताबिक उन्होंने फोन करके फुरकान और अंसार को बुला लिया तो हमलावरों ने उनके साथ भी मारपीट की। एसपी सिटी का कहना है कि रविंद्र की तहरीर पर रईसपुर निवासी वसीम, अंसार, फुरकान और नीरज के खिलाफ हत्या की कोशिश व बलवे का केस दर्ज कर लिया गया है। वहीं, वसीम की तहरीर पर फरियाद और उसके अज्ञात साथियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। दोनों पक्षों के पांच लोगों के गिरफ्तार किया गया है।

भड़काऊ बयान पर महंत मछेंद्र पुरी के खिलाफ मुकदमा दर्ज
वहीं इस पूरे प्रकरण में एक दंगाई महंत पुलिस के सामने मौलाना को मारने की धमकी देता नजर आ रहा है संजयनगर सेक्टर-23 में हुई घटना के बाद हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया तथा साथ ही हिंडन विहार स्थित बालाजी मंदिर के महंत मछेंद्र पुरी भी पहुंच गया। वहां उसने भड़काऊ बयान दिया कि हमलावरों पर कार्रवाई न होने पर वह धार्मिक स्थल में घुसकर मौलाना को पीटेंगे। एसपी सिटी का कहना है कि महंत मछेंद्र पुरी पर धार्मिक भावनाएं भड़काने का केस दर्ज कर आगामी कार्रवाई की जा रही है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment