10.5 C
London
Thursday, February 29, 2024

Covaxin में मिला हुआ है गाय के बछड़े का सीरम ? कांग्रेस के खुलासे पर भड़के संबीत पात्रा

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

नई दिल्ली. देश में कोविड-19 के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान जारी है। इस वैक्सीनेशन प्रोग्राम में पूरी तरह से स्वदेशी वैक्सीन COVAXIN का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। अब पिछले कुछ दिनों में कोवैक्सिन से जुड़ी कुछ पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इन पोस्टों में यह दावा किया गया है कि COVAXIN वैक्सीन में नवजात बछड़ा सीरम होता है। अब इस संबंध में भारत सरकार का भी बयान आया है।

इस बीच भारत बायोटेक की को-वैक्सीन को लेकर कांग्रेस नेता द्वारा एक दावा किया गया है. कांग्रेस नेता का कहना है कि कोवैक्सीन को बनाने के लिए गाय के बछड़े के सीरम का उपयोग किया जा रहा है, ये दावा उन्होंने एक RTI में मिले जवाब के आधार पर किया है. इस बीच बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर निशाना साधा. बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि कोवैक्सीन में बछड़े का सीरम नहीं है. कांग्रेस वैक्सीन को लेकर भ्रम फैला रही है. देखें और क्या बोले संबित पात्रा.

भारत सरकार ने बयान जारी कर कहा है कि सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही ऐसी पोस्टों में तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है। 

बयान में बताया गया है कि नवजात बछड़े के सीरम (Newborn Calf Serum) का उपयोग केवल वेरो कोशिकाओं (vero cells) की तैयारी / वृद्धि के लिए किया जाता है। विभिन्न प्रकार के गोजातीय (bovine) और अन्य पशु सीरम (other animal serum) वेरो सेल विकास के लिए विश्व स्तर पर उपयोग किए जाने वाले मानक संवर्धन घटक हैं। वेरो कोशिकाओं का उपयोग कोशिका जीवन को स्थापित करने के लिए किया जाता है जो टीकों के उत्पादन में मदद करते हैं। पोलियो, रेबीज और इन्फ्लुएंजा के टीकों में दशकों से इस तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है।

सरकार की तरफ से जारी बयान में ये भी बताया गया है कि इन वेरो कोशिकाओं को, वृद्धि के बाद, पानी से धोया जाता है, रसायनों (तकनीकी रूप से बफर के रूप में भी जाना जाता है) के साथ ताकि इसे नवजात बछड़े के सीरम (newborn calf serum) से मुक्त किया जा सके। इसके बाद ये वेरो सेल्स वायरल ग्रोथ के लिए कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाते हैं।

मंत्रालय की तरफ से आगे बताया गया कि वायरल वृद्धि की प्रक्रिया में वेरो कोशिकाएं पूरी तरह से नष्ट हो जाती हैं। इसके बाद यह विकसित वायरस भी मर जाता है (निष्क्रिय) और शुद्ध हो जाता है। इस निष्क्रिय वायरस का उपयोग अंतिम टीका बनाने के लिए किया जाता है और और अंतिम टीके के निर्माण में किसी भी बछड़े के सीरम का उपयोग नहीं किया जाता है। इसलिए, अंतिम वैक्सीन (COVAXIN) में नवजात बछड़े का सीरम बिल्कुल नहीं होता है और यह अंतिम वैक्सीन उत्पाद का एक घटक नहीं है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here