नई दिल्ली: यूक्रेन रूस (Russia Ukraine War) के हमले का आज चौथा दिन हैं. इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की (Volodymyr Zelenskiy) ने रविवार को कहा कि उनका देश विदेशी स्वंयसेवकों की एक अंतरराष्ट्रीय सेना स्थापित करने में लगा है. समाजार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक जेलेंस्की ने अपने बयान में कहा कि यह हमारे देश के लिए आपके समर्थन का प्रमुख सबूत होगा.

यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए कहा कि यूक्रेन की रक्षा में जो स्वंयसेवी शामिल होना चाहते हैं वे विदेशी अपने अपने देश में यूक्रेन के राजनयिक मिशनों से इस मामले पर संपर्क करना चाहिए

विदेश मंत्री ने ट्वीट करते हुए कहा, यूक्रेन और विश्व व्यवस्था की रक्षा करने के लिए जो नागरिक हमारी सेना में शामिल होने के इच्छुक हैं मैं उनकों यूक्रेन के विदेशी राजनयिक मिशनों में संपर्क के लिए आमंत्रित करता हूं.

गौतरलब है कि रूस ने यूक्रेन पर 24 फरवरी को हमला कर दिया था. लगातार चौथे दिन रविवार को भी रूस का हमला जारी है. रूस ने यूक्रेन के न्यूक्लियर पावर प्लांट पर भी कब्जा कर लिया है और अब रूसी सेना राजधानी कीव के काफी करीब पहुंच चुकी है.

इस बीच शनिवार को रूस ने अपनी सेना को यूक्रेन के खिलाफ अभियान को तेज करने के लिए आदेश दिए और साथ ही कहा कि यूक्रेन ने बातचीत से इनकार किया इसलिए अब उसे चारो तरफ से घेरा जाएगा.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment