पाकिस्तान के नवनियुक्त विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी (Bilawal Bhutto Zardari) ने बड़ा बयान दिया है और भारत (India) को फासीवादी देश बताते हुए दक्षिण एशिया में शांति के लिए कश्मीर में शांति को अहम माना है.

भारत को बताया फासीवादी देश
बिलावल भुट्टो ने कहा कि भारत में अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न की घटनाएं बढ़ रही हैं जिसका संज्ञान अंतरराष्ट्रीय समुदाय को लेना चाहिए. बिलावल भुट्टो ने नुपूर शर्मा (Nupur Sharma) द्वारा दिए गए बयान का जिक्र करते हुए उसे अपमानजनक बताया और कहा कि भारत एक फासीवादी देश बन गया है जिसका यह ताजा उदाहरण है. भुट्टो ने कहा कि भारत में धर्मनिरपेक्षता समाप्त हो रही है और हिंदुत्व का प्रभुत्व बढ़ रहा है.

कश्मीर में बिगड़ रही स्थिति
भुट्टो ने कश्मीर का जिक्र करते हुए कहा कि वहां स्थिति बिगड़ रही है. मुसलमानों का उत्पीड़न हो रहा है तथा उनसे उनके संवैधानिक अधिकार छीने जा रहे हैं. भुट्टों ने कश्मीर के बहुसंख्यक मुसलमानों के भारत सरकार द्वारा अल्पसंख्यक बनाकर हाशिए पर धकेलने का अरोप लगाया.

दक्षिण एशिया में शांति के लिए शांत कश्मीर जरुरी
पाक विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ शांति चाहता है लेकिन भारत शांति बढ़ाने के लिए कहम उठाने की जगह वैमनश्य बढ़ाने वाला कदम उठा रहा है जिससे दोनों देशों के बीच नफरत बढ़ रही है. भुट्टो ने कहा कि कश्मीर में शांति दक्षिण एशिया में शांति के लिए बहुत जरुरी है. भारत सरकार को इसके लिए कदम उठाने चाहिए.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment