6.5 C
London
Tuesday, March 5, 2024

पिता आजम खान का हाल बताते-बताते मंच पर ही रो पड़े बेटे अब्‍दुल्‍ला आजम

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

सपा सांसद आजम खान के बेटे जेल से बाहर निकल चुके हैं। वो जेल के भीतर की आपबीती को बयां कर रहे हैं। ऐसे में एक प्रोग्राम में उन्होंने अपने पिता आजम खान के बारे में बताया तो बरबस ही उनकी आंखों से आंसू निकल पड़े। उन्होंने सिलसिलेवार बताया कि जेल में कैसे पिता पर जुल्म हो रहे हैं।

ध्यान रहे कि योगी सरकार के कार्यकाल में आजम खान के साथ उनके बेटे अब्दुल्ला खान को पुराने मामलों में जेल की हवा खिलाई गई थी। आजम अभी तक जेल के भीतर ही हैं जबकि उनके बेटे को जमानत पर रिहा किया जा चुका है।

उधर, समाजवादी पार्टी ने रामपुर जिले की पांचों विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशियों का एलान कर दिया है। रामपुर शहर विधानसभा सीट से सांसद आजम खां को प्रत्याशी बनाया गया है। स्वार टांडा से उनके पुत्र अब्दुल्ला आजम चुनाव लड़ेंगे। आजम खां इस सीट से नौ बार विधायक रहे हैं। सपा की सरकारों में वो मंत्री भी बने। वहीं, स्वार टांडा विधानसभा सीट से आजम खां के पुत्र अब्दुल्ला आजम खां सपा के टिकट पर एक बार फिर चुनाव मैदान में उतरेंगे। 2017 के चुनाव में भी उन्हें प्रत्याशी बनाया गया था। वो जीत भी गए थे। लेकिन उम्र पूरी न होने के कारण हाईकोर्ट ने उनका निर्वाचन रद्द कर दिया था। अब सपा ने उन्हें दोबारा प्रत्याशी बनाया है।

सपा ने जिले की दूसरी सीटों से भी प्रत्याशियों का ऐलान कर दिया है। चमरौआ और मिलक सुरक्षित सीट से पुराने चेहरों पर ही दांव लगाया है, बिलासपुर विधानसभा सीट से अमरजीत सिंह को प्रत्याशी बनाया गया है। यहां दूसरे चरण में विधानसभा चुनाव होना है। इसके लिए 21 जनवरी से नामांकन शुरू हो जाएंगे। जबकि, 14 फरवरी को मतदान होगा।

उधर, भाजपा ने रामपुर जिले की चार विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं, जबकि स्वार-टांडा सीट पर अभी घोषणा नहीं हुई है। रामपुर शहर से भाजपा ने ऐसे शख्स को चुनाव मैदान में उतारा है, जिन्होंने सांसद आजम खां पर कई मुकदमे कर रखे हैं। आकाश सक्सेना नाम का ये शख्स वकील है। उसके पिता शिव बहादुर सक्सेना हैं मंत्री रह चुके हैं।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here