रूस और यूक्रेन के बीच चल रही भीषण जंग का अंजाम क्या होगा. इसके बारे में सोचकर पूरी दुनिया डरी हुई है. इसी बीच युद्ध के 11वें दिन टर्की (Turkey) के राष्ट्रपति Recep Tayyip Erdogan ने रविवार को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) से फोन पर बातचीत की. 

एर्दोआन ने 1 घंटे तक की पुतिन से बातचीत

टर्की (Turkey) के राष्ट्रपति कार्यालय के मुताबिक, रूसी राष्ट्रपति से बातचीत में Erdogan ने तत्काल सीजफायर की अपील की. करीब 1 घंटे तक चली फोन कॉल में एर्दोआन ने कहा कि यूक्रेन में पनपे मानवीय संकट को देखते हुए रूस को युद्ध को कुछ समय के लिए रोक देना चाहिए. एर्दोआन ने अपील की कि इस संघर्ष का समाधान करने के लिए युद्ध के बजाय राजनीतिक समाधान निकाला जाना चाहिए. 

मानवीय कॉरिडोर बनाने पर दिया जोर

Recep Tayyip Erdogan ने कहा कि युद्ध से प्रभावित लोगों की सुरक्षित निकासी के लिए मानवीय कॉरिडोर बनाए जाने की जरूरत है. इसके साथ ही रूस और यूक्रेन के बीच लड़ाई बंद करने के लिए पीस एग्रीमेंट भी होना चाहिए. 

मध्यस्थ बनने का दिया ऑफर

टर्की (Turkey) के रूस और यूक्रेन, दोनों से अच्छे संबंध हैं. इस युद्धकालीन परिस्थितियों में वह मध्यस्थ बनकर शांति करवाने का श्रेय लेना चाहता है. उसने अगले सप्ताह दोनों देशों के प्रतिनिधियों को बातचीत के लिए इन्वाइट किया है. बातचीत के दौरान एर्दोआन ने पुतिन से कहा कि वह इस संकट को खत्म करवाने के लिए अपनी ओर से हरसंभव मदद देने को तैयार हैं. 

पुतिन ने बताई अपनी शर्तें

इस बातचीत के दौरान पुतिन ने सीजफायर के लिए उन्हें रूस की शर्तें बताई. पुतिन ने कहा कि जब तक यूक्रेन इन शर्तों को मान नहीं लेता है, तब तक जंग नहीं रुकेगी. इनमें यूक्रेन को वैश्विक मामलों से तटस्थ रहने और असैन्यीकरण करने की बात शामिल है. पुतिन ने साफ कहा कि अपने लक्ष्यों को हासिल करने से पहले रूस रुकने वाला नहीं है.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment