कुरान-ए-मजीद पढ़ाने पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग में शिकायत

मनोरंजनकुरान-ए-मजीद पढ़ाने पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग में शिकायत

लखनऊ, 14 जुलाई। उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन और लखनऊ के समाजसेवी वसीम रिजवी ने यूनाइटेड नेशन (यूएन) ह्यूमन राइट्स कमीशन में भारत सहित 52 मुस्लिम देशों में संचालित हो रहे मदरसों में कुरान-ए-मजीद को पढ़ाए जाने के संबंध में शिकायत दर्ज करायी है। उन्होंने कहा कि अगर कुरान की तालीम रोकी नहीं गयी या फिर ये 26 आयतें जो आतंक को बढ़ावा देती हैं, हटायी नहीं गयीं तो वो दिन दूर नहीं, जब पूरी दुनिया में मुस्लिम बनाम गैर मुस्लिम की जंग शुरु हो जायेगी।

रिजवी ने कहा कि मदरसों के माध्यम से छोटे बच्चों को कुरान की दी जा रही तालीम पूरी दुनिया के लिये चैलेंज है। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि दुनिया की शांति के लिए कुरान में से 26 आयतों को हटाया जानी बेहद जरुरी है। ऐसा नहीं होने पर कुरान को पढ़ने पर प्रतिबंध लगाया जाना बहुत जरूरी है। बता दें कि वसीम रिजवी ने बीते कुछ माह में कुरान की 26 आयतों को हटाने के लिए कई बयान जारी किये हैं। इस दौरान उन्होंने असली कुरान नामक एक पुस्तक भी लिखी है। इन 26 आयतों को हटाये जाने के बयान पर खासा विवाद भी हुआ है।

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles