7 C
London
Friday, March 1, 2024

वसीम रिजवी की किताब ‘मोहम्मद’ पर विवाद, सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कराया मामला दर्ज

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

हैदराबाद. उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड (Uttar Pradesh Shia Waqf Board) के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी के खिलाफ ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने शिकायत दर्ज कराई है. ओवैसी का आरोप है कि रिजवी ने अपनी किताब ‘मोहम्मद’ में पैगंबर मोहम्मद के बारे में आपत्तिजनक बातें लिखी हैं. साथ ही उन्होंने वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष की गिरफ्तारी की भी उम्मीद जताई है. AIMIM प्रमुख ने इस संबंध में हैदराबाद पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार को पत्र सौंपा है.

बुधवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान ओवैसी ने कहा, ‘हमने हैदराबाद पुलिस आयुक्त से मुलाकात की है. यूपी शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने एक किताब लिखी है, जिसमें पैगंबर मोहम्मद को लेकर आपत्तिजनक बयान दिए गए हैं. हमने उनके खिलाफ मामला दर्ज करने का अनुरोध किया है. कमिश्नर ने आपराधिक मामला दर्ज करने का आश्वासन दिया है. हमें उम्मीद है कि उन्हें जल्दी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.’

भाषा के अनुसार, रिजवी पर आरोप है कि उन्होंने अपनी किताब में आपत्तिजनक चीजें लिखी हैं. ओवैसी ने शिकायत में कहा, ‘हिंदी में लिखी गई किताब में इस्लाम और उसके अनुयायियों के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया गया है.’

उन्होंने कहा, ‘किताब की सामग्री और आपत्तिजनक बयानों को उनकी धार्मिक भावनाएं आहत करने के मकसद से लिखा गया है जो पैगंबर मोहम्मद के अनुयायी हैं और इस्लाम के सिद्धांतों को मानने वाले हैं.’

इस महीने ‘मोहम्मद’ शीर्षक के नाम से जारी हुई रिजवी की किताब के चलते काफी विवाद हुआ था. देश के कुछ हिस्सों में इस किताब का विरोध किया गया था. इससे पहले भी रिजवी ने नवंबर 2018 में ‘राम जन्मभूमि’ नाम से फिल्म तैयार की थी. इसके अलावा वे सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर कुरान की 26 आयतें हटाने की भी अपील कर चुके हैं. उनके इस कदम से भी विवाद खड़ा हो गया था.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here