सऊदी अरबिया के नियम और कायदे अन्य देशों से बिल्कुल अलग और सख्त हैं. वहां गलती की माफी नहीं होती. सऊदी अरब में पंजाब से वास्ता रखने वाले बलविंदर वहां के कानूनी दांव-पेंच में बुरी तरह फंस चुके हैं. उन्हें 6 दिन के भीतर 2 करोड़ रुपये चुकाने हैं या फिर उनका सिर धड़ से अलग कर दिया जाएगा. बलविंदर को बचाने की कोशिशों में लगे उनके परिवार ने अब पंजाब के सीएम भगवंत मान से मदद की गुहार लगाई है. आइये आपको बताते हैं आखिर बलविंदर का अपराध क्या है और क्यों सऊदी अरब ने उनका सिर कलम करने का ऐलान किया है.

बलविंदर के पास महज 6 दिन

2008 में पंजाब के मुक्तसर से रोजी-रोटी के लिए सऊदी अरब गए बलविंदर सिंह के पास महज 6 दिन बचे हैं. एक मामले में मौत की सजा का सामना कर रहे बलविंदर सिंह को या तो पीड़ित परिवार को 2 करोड़ की ‘ब्लड मनी’ देनी पड़ेगी या फिर सऊदी अरब कानून के मुताबिक उनका सिर कलम कर दिया जायेगा. 

7 साल से जेल में हैं बलविंदर

बलविंदर सिंह के चचेरे भाई जोगिंदर सिंह ने बताया कि 2008 में मुक्तसर के गांव मल्लन के रहने वाले बलविंदर सिंह रोजगार के लिए सऊदी अरब चले गए थे. 2013 में एक एक्सीडेंट के दौरान किसी को चोट लग गई थी, बाद में उनकी मौत हो गई. इस मामले में बलविंदर को 7 साल की सजा हुई. सऊदी अरब में एक सजा पूरी करने के बाद परिवार से पूछा जाता है कि वो अपराधी के साथ क्या करना चाहते हैं. 

कंपनी ने नहीं निभाया वादा

पीड़ित परिवार ने 2 करोड़ रुपए मुआवजे के तौर पर मांगे हैं. अगर ऐसा नहीं हो पाया तो परिवार ने बलविंदर के लिए सिर कलम करने की सजा की मांग की है. 2019 से परिवार पैसे जुटा रहा है. अभी तक परिवार 1,20,00,000 रुपए जुटा पाया है. पहले जिस कंपनी में बलविंदर काम करते थे, उन्होंने वादा किया था कि वो मदद करेंगे लेकिन अब वो कोई मदद नहीं कर रहे. बलविंदर के परिवार वालों का आरोप है कि कंपनी ने ही उन्हें फंसाया है. जोगिंदर ने कहा कि बलविंदर के माता-पिता उनके इंतजार में मर गए. 32 साल के बलविंदर के बड़े भाई और बहन और गांव वाले लोगों से मदद की गुहार लगा रहे हैं. 

भगवंत मान से मदद की आस

समाज सेवी रुपिंदर सिंह ने बताया कि न सिर्फ ‘ब्लड मनी’ की मांग की जा रही है बल्कि बलविंदर पर धर्म परिवर्तन का दबाव भी बनाया जा रहा है. उनके सामने शर्त रखी गई है कि धर्म परिवर्तन के एवज में उन्हें जेल से रिहा कर दिया जाएगा लेकिन फिर वो भारत वापिस नहीं जा सकेंगे. बलविंदर सिंह ने धर्म परिवर्तन से इंकार कर दिया है. रुपिंदर ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को आगे आना चाहिए. भगवंत मान विदेशों में बसे पंजाबियों को वापस लाने की बात हमेशा करते हैं. मान को बलविंदर की वापसी के लिए मदद करनी चाहिए. 

बलविंदर के पास दो रास्ते

पंजाब के बहुत से युवा हर साल रोजगार का अवसर तलाशने कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, अरब और अलग-अलग देशों में जाते हैं. आए दिन कई तरह के मामले सामने आते हैं लेकिन ये मामला बहुत ही गंभीर है. फिलहाल परिवार आम लोगों से मदद की अपील कर रहा है. 2 करोड़ ब्लड मनी ना दी तो पंजाब के बलविंदर सिंह का सऊदी अरब में सिर कलम कर दिया जाएगा. बलविंदर के पास दो रास्ते हैं.. या तो वे ‘ब्लड मनी’ की रकम चुकाएं.. या फिर धर्म परिवर्तन करें, नहीं तो 15 मई के बाद उनका सिर कलम कर दिया जाएगा.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment