दिल्ली भाजपा ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा अभियान शुरू कर दिया है। लेकिन मनोज तिवारी के द्वारा प्रस्तावित रथ यात्रा को टाल दिया गया है। पुलिस ने रथ यात्रा से जुड़े लोगों को चेताया है और कहा है कि कई शरारती तत्व हमले करने की फ़िराक में भी है।

दरअसल भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने अपने संसदीय क्षेत्र उत्तर पूर्वी दिल्ली में रथ यात्रा करने की योजना बनाई थी। ज्ञात हो कि पिछले साल फ़रवरी के महीने में उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़के सांप्रदायिक दंगों में करीब 50 से अधिक लोगों की मौत हुई थी और 300 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

कल सोमवार को दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने वजीरपुर के वाल्मीकि मंदिर से अभियान की शुरुआत की। आदेश गुप्ता ने कहा कि यह अभियान 27 फ़रवरी तक शहर भर में चलाया जाएगा। हालाँकि इस अभियान को लेकर सांसद मनोज तिवारी ने काफी तैयारी भी की थी।

तिवारी की प्रस्तावित रथयात्रा को तिमारपुर, चांद बाग, यमुना विहार जैसे इलाकों से होकर गुजरना था। लेकिन तिवारी ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में दिल्ली पुलिस बेहतरीन कार्य कर रही है। सीमा पर किसानों के आंदोलन और शहर में हुए विस्फोट को देखते हुए मैंने रथ यात्रा टालने का निर्णय लिया है। हालात सामान्य होने पर रथ यात्रा निकाली जाएगी।

सोमवार को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता और राज्यसभा सासंद विजय गोयल ने राम मंदिर निर्माण के चंदे के लिए डोर टू डोर अभियान की शुरुआत की। आदेश गुप्ता ने अभियान के शुरू होने पर कहा कि देशवासी चाहते हैं अयोध्या में श्री राम का भव्य मंदिर बने। वहीँ विश्व हिंदू परिषद दिल्ली के अध्यक्ष कपिल खन्ना ने भी कहा कि हमने 40 हजार वालंटियरों को 2 से 5 लोगों के समूह में बांटा है जो लोगों तक पहुंच रहे हैं।

ज्ञात हो कि फ़रवरी 2020 में उत्तरपूर्वी दिल्ली में व्यापक हिंसा भड़की थी जिसमें करीब 53 लोग मारे गए थे तो सैकड़ों लोग घायल हुए थे। दंगों में घरों , दुकानों और धार्मिक स्थानों को भी भारी क्षति पहुंची थी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *