नयी दिल्लीः दिल्ली पुलिस ने हाल में रिलीज हुई फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ के मद्देनजर कानून व्यवस्था की स्थिति को बिगड़ने से रोकने के लिए सभी जिलों के पुलिस उपायुक्तों (डीसीपी) को मिश्रित जनसंख्या वाले इलाकों में उचित सुरक्षा प्रबंध करने का निर्देश दिया है।

पुलिस की विशेष शाखा की ओर से 14 मार्च को जारी एक पत्र में अंदेशा जताया गया है कि फिल्म की संवेदनशील प्रकृति को देखते हुए सांप्रदायिक हिंसा और तनाव फैल सकता है। यह पत्र सभी जिलों के डीसीपी, पीसीआर और यातायात इकाइयों को भेजा गया है। ‘द कश्मीर फाइल्स’ कश्मीरी पंडितों के 1990 के दशक में कश्मीर घाटी से पलायन पर आधारित फिल्म है। 

फिल्म के रिलीज के बाद देशभर के कई राज्यों ने इसे करमुक्त करने का ऐलान किया। गुजरात, उत्तर प्रदेश, हरियाणा,  उत्तराखंड, कर्नाटक जैसे राज्यों में इसे टैक्स फ्री किया जा चुका है। फिल्म को लेकर सोशल मीडिया पर कश्मीरी पंडितों की चिंता और उनके दर्द फिर से चर्चा में आ गए हैं। पीएम मोदी ने इस फिल्म को लेकर विपक्ष पर हमला भी बोला।

वहीं अमित शाह ने भी “द कश्मीर फाइल्स” को सच्चाई का एक साहसिक प्रतिनिधित्व बताया। शाह ने यह भी कहा कि फिल्म ने दुनिया के सामने कश्मीरी पंडितों के बलिदान, असहनीय दर्द और संघर्ष को उजागर किया है। शाह ने यह टिप्पणी विवेक अग्निहोत्री, अनुपम खेर, पल्लवी जोशी सहित फिल्म के निर्माताओं और अभिनेताओं के उनसे यहां मुलाकत करने के बाद की।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment