13.5 C
London
Saturday, May 18, 2024

दिल्ली पुलिस ने “बुली बाई ऐप” बनाने वाला मुख्य आरोपी को दबोचा, असम से हुआ गिरफ्तार

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

Bulli Bai ऐप की जांच में जुटी पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. GitHub पर bulli bai ऐप बनाने वाले को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इस ऐप पर मुस्लिम महिलाओं को निशाने पर लेकर उनकी बोली तक लगाई जा रही थी. इस मामले में पहले ही तीन लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

दिल्ली पुलिस इनपुट मिलने के बाद असम पहुंची थी, वहीं से bulli bai के क्रिएटर को अरेस्ट किया गया है. आरोपी का नाम नीरज बिश्नोई है. उसकी उम्र 21 साल बताई गई है. बिश्नोई वीआईटी भोपाल में इंजीनियरिंग का सेकंड ईयर का छात्र है.

पहले हुईं तीन गिरफ्तारी

इससे पहले इस मामले में मुंबई पुलिस ने तीन गिरफ्तारी की थी. इसमें श्वेता सिंह, विशाल कुमार और मयंक रावल को गिरफ्तार किया गया था. श्वेता सिंह को उत्तराखंड से अरेस्ट किया गया था. वह कुल 21 साल की है. गौरतलब है कि आरोपी विशाल कुमार को मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने बेंगलुरु की कोर्ट में पेश किया. जहां से उसे 10 जनवरी तक पुलिस हिरासत में भेजा गया है. साथ ही पुलिस को कोर्ट ने बुल्लीबाई एप मामले में पुलिस को उसके ठिकानों पर तलाशी लेने की अनुमति भी दे दी है.

क्या है Bulli Bai ऐप?

बुल्लीबाई ऐप नाम से एक ऐप बनाया गया है. उस ऐप पर मुस्लिम महिलाओं को टारगेट किया जा रहा है. उनके खिलाफ नफरत फैलाई जा रही है. गंदी बातें लिखी जा रही हैं. दरअसल ये ऐप ठीक उसी तरह बनाया गया है, जैसे कुछ दिन पहले Sulli Deals बनाया गया था. Sulli deal को Github पर लॉन्च किया गया था, अब Bulli Bai को भी गिटहब (Github) पर लॉन्च किया गया है.

निशाने पर ली गईं सौ महिलाएं

बुल्ली बाई ऐप पर उन सौ महिलाओं को टारगेट किया गया है, जो ट्विटर और फेसबुक पर दमदार मौजूदगी रखती हैं. इन पीड़िताओं में मीडिया समेत दूसरे फील्ड में काम करने वाली महिलाएं शामिल हैं. इन सब महिलाओं ने शिकायत की है कि उस घटिया ऐप और प्लेटफॉर्म पर उनके नाम और फोटो का इस्तेमाल किया जा रहा है. इस ऐप की करतूत पर कई लोगों ने सोशल मीडिया पर नाराजगी जताई है. इस मामले में एक महिला पत्रकार की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज किया है.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here