कोरोना वायरस (CoronaVirus) ने भारतीय लोगों को तगड़ा झटका दिया है। क्योंकि हाल ही में एक रिपोर्ट में ऐसा खुलासा हुआ है जिसको लेकर हर कोई हैरान है। इस वायरस ने बिना बीमार किए भी भारतीयों की उम्र 2 साल तक कम कर दी है। इंटरनैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ पॉपुलेशन स्‍टडीज  के अनुसार 2019 में भारतीय पुरुषों की जीवन प्रत्‍याशा (life expectancy) 69.5 साल थी जो 2020 में घटकर 67.5 साल रह गई। इतना ही नहीं बल्कि भारतीय महिलाओं की जीवन प्रत्‍याशा 2019 में 72 साल थी जो अब 69.8 साल पर आ गई है। यह स्‍टडी बीएमसी पब्लिक हेल्‍थ जर्नल में छपी है।

आपको बता दें कि जन्‍म के समय जीवन प्रत्‍याशा (life expectancy) का मतलब उस औसत समयकाल से होता है जितने वक्‍त तक नवजाते के जीने की संभावना होती है। अगर बाकी पैटर्न्‍स भविष्‍य में वैसे ही रहें तो। इस स्‍टडी में विभिन्‍न एजग्रुप्‍स के जीवनकाल में आए बदलाव पर भी नजर डाली गई है। इसमें सामने आया है कि 35 साल से 69 साल के एजग्रुप में पुरुषों के मरने की दर सबसे ज्‍यादा थी।

यह स्‍टडी देश में कोरोना वायरस से मृत्‍यु दर (Coronavirus death rate) के पैटर्न में क्‍या बदलाव आया है यह जानने के लिए की गई थी। दुनियाभर में कोरोना के चलते पिछले सालों के मुकाबले कहीं ज्‍यादा मौतें हुई हैं।

इस स्टडी में बताया गया है कि जीवन प्रत्‍याशा बढ़ाने के लिए पिछले दशक में हमें जो भी प्रगति की थी उस पर पानी फिर गया है। अब भारत में जन्‍म के समय जीवन प्रत्‍याशा (Indians life expectancy) अब उतनी ही है जितनी 2010 में थी। अब उसी स्थिति तक पहुंचने में सालों लग जाएंगे।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment