भुवनेश्वर, 7 मार्च (आईएएनएस)। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रविवार को यूक्रेन से भारत लौटे मेडिकल छात्रों की पढ़ाई जारी रखने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से तत्काल हस्तक्षेप करने की मांग की।

प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में पटनायक ने कहा कि ओडिशा और भारत के अन्य हिस्सों से बड़ी संख्या में मेडिकल छात्रों को यूक्रेन में युद्ध के कारण घर लौटना पड़ा।

उन्होंने कहा कि उनकी पढ़ाई में व्यवधान तब तक जारी रहने की संभावना है, जब तक कि शत्रुता खत्म नहीं हो जाती और यूक्रेन में उनके विश्वविद्यालयों में सामान्य स्थिति बहाल नहीं हो जाती।

मुख्यमंत्री ने कहा, यह एक अभूतपूर्व संकट है, जिसमें हजारों युवक और युवतियों का करियर बाधित हो रहा है। ये सभी पहले से ही युद्ध क्षेत्र में होने के आघात से गुजर चुके हैं।

ओडिशा के मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग (एनएमसी) और संबंधित मंत्रालयों के साथ प्रधानमंत्री के तत्काल हस्तक्षेप की मांग की, ताकि भारत के मेडिकल कॉलेजों में उनकी पढ़ाई को उस चरण से जारी रखने में सक्षम बनाया जा सके, जहां से यूक्रेन में उनकी पढ़ाई बाधित हुई थी।

पटनायक ने इस उद्देश्य के लिए एक व्यावहारिक समाधान को लागू करने के लिए प्रधानमंत्री को अपनी सरकार से पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया।सूत्रों के मुताबिक ओडिशा से करीब 500 छात्र मेडिकल कोर्स की पढ़ाई के लिए यूक्रेन गए थे। उनमें से कई रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध के बाद पढ़ाई बीच में ही छोड़कर भारत लौट आए हैं।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment