चित्रकूटः मंदिर के प्रचार-प्रसार करने के मकसद से उत्तर प्रदेश चित्रकूट के प्राचीन यज्ञवेदी मंदिर की दीवार पर मुगल बादशाह औरंगजेब की तस्वीर वाला बैनर लगाना महंत सत्यप्रकाश को भारी पड़ा। जहां हिंदू युवा वाहिनी के भारी विरोध के बाद महंत समेत सहयोगी चरण दास व पुजारी के विरुद्ध एफआईआर दर्ज की गई है।

बता दें कि रामघाट में मंदाकिनी तट पर स्थित मंदिर पर महंत सत्यप्रकाश ने औरंगजेब संग बैनर लगा दिया। वहीं महंत की इस कृत्य को लेकर हिंदू युवा वाहिनी ने पुलिस में शिकायत की और जबरदस्त विरोध दर्ज कराया। इसके बाद है महंत समेत तीन लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज की गई।

महंत की इस कृत्य को लेकर हिंदू संगठन के जिलाध्यक्ष बुद्ध प्रकाश ने बीते गुरुवार को कर्वी कोतवाली में इसको लेकर तहरीर दी जिसमें कहा गया है कि यज्ञवेदी मंदिर के महंत सत्यप्रकाश दास और उनके सहयोगी चरण दास व पुजारी ने मंदिर और खुद का प्रचार करने के लिए बैनर बनवाया था। मुगल शासक को महान दर्शाने का काम घृणित है।

वहीं सत्यप्रकाश दास ने कहा कि मंदिर में औरंगजेब का ताम्रपत्र मौजूद है। मंदिर को लेकर उन्होंने जो लोगों से सुना था और पढ़ा था, उसी के आधार पर यह बैनर बनवाया गया।

इस बाबत सीओ सिटी शीतला प्रसाद पांडेय ने कहा कि सामाजिक संगठन की शिकायत के आधार पर आईपीसी की धारा 151 के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Join the Conversation

1 Comment

  1. Aurangzeb rahmatual gave charity to mandir even that histroic letter is with mandir this is only rightywing one more hilarious act to embrace great mughal king

Leave a comment