नई दिल्ली: बुधवार सुबह तमिलनाडु के कुन्नूर में सेना का MI17V5 विमान हादसे का शिकार हो गया. इस विमान में देश के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) और उनकी पत्नी समेत 14 सेना के अधिकारी शहीद हो गए. जानकारी के मुताबिक खराब मौसम के चलते हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ. इस बात की जानकारी Indian Air Force ने अपने ट्वीट के जरिए दी है. 

बता दें कि बुधवार दोपहर तमिलनाडु के कुन्नूर जिले जाते वक्त सेना का MI-17 V5 हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया, जिसमें सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत 14 वरिष्ठ अफसर सवार थे। हेलिकॉप्टर क्रैश होने की वजह से बिपिन रावत और उनकी पत्नी समेत 13 लोगों की मौत की खबर सामने आ रही है। एयरफोर्स ने ट्वीट कर सीडीएस बिपिन रावत की मौत की पुष्टि कर दी है। आज सुबह सेना का एमआई-17V5 हेलीकाप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। हेलीकाप्टर में सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत, ब्रिगेडियर एलएस लिद्दर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, एनके गुरसेवक सिंह, एनके जितेंद्र क्र, एल / नायक विवेक कुमार, एल / नायक बी साई तेजा और हवलदार सतपाल सवार थे।

कुन्नूर के पास ये हादसा हुआ जहां धूधू कर जलता हुआ मलबा बरामद हुआ। घने जंगलों के बीच काफी बड़े क्षेत्र में हेलीकाप्टर का मलबा फैल गया। यह हेलीकाप्टर सेना के द्वारा इस्तेमाल किया जाता है। और सेना में इसे काफी भरोसेमंद माना जाता है। हादसे की खबर फैलते ही पूरा देश स्तब्ध रह गया। पूरा देश सीडीएस बिपिन रावत और सेना के अधिकारियों के बारे में जानने का उत्सुक था घटनाक्रम में कुछ लोगों को अस्पताल ले जाए जाने की खबर आई चार लोगों के 88 प्रतिशत से अधिक जलने की खबर आई। इसके बाद कई लोगों की मौतों की पुष्टि हुई रक्षामंत्री राजनाथ सिंह जनरल बिपिन रावत के घर गए।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment