9.4 C
London
Wednesday, February 21, 2024
Homeइतिहास

इतिहास

spot_imgspot_img

आपातकाल स्वतंत्र भारत का सबसे बड़ा काला अध्याय, पढ़े कैसा था।

आपातकाल स्वतंत्र भारत के इतिहास का सबसे काला अध्याय है, जिसके दाग से कांग्रेस कभी मुक्त नहीं हो सकती। इंदिरा गांधी ने समूचे...

कर्नाटक उच्च न्यायालय ने मस्जिद मामले पर फैसला सुरक्षित रखा 

बेंगलुरु, 24 जून (भाषा) कर्नाटक उच्च न्यायालय ने एक मस्जिद का सर्वेक्षण कराने के लिए मंगलुरु की अदालत में लंबित मामले को बरकरार रखने...

सऊदी अरब के इतिहास में पहली बार एक साथ 81 लोगो को सुनाई गई ‘फांसी’ की सजा

रियाद: सऊदी अरब के आंतरिक मंत्रालय ने शनिवार को घोषणा की कि उन्होंने आतंकवाद और मौत के अपराधों के दोषी व्यक्तियों को मौत की...

खदान से मिला डायनासोर के जमाने का संगमरमर, “बिस्मिल्लाह” लिखा देख ‘चौंके’ वैज्ञानिक

अंकारा: तुर्की (Turkey) में एक खदान से बेहद पुराना संगमरमर पत्थर मिला है, जिस पर बिस्मिल्लाह (Bismillah) लिखा हुआ है. ये खदान भूमध्यसागरीय प्रांत अंताल्या...

उस्मानिया सल्तनत के दौर का “जनरल कदूर बिन ग़बरीत जो मुफ्ती बना हुआ था”

1924 ईस्वी में खिलाफत उस्मानिया का खात्मा हुआ 1925 ईसवी में फ्रांस ने दमिश्क पर बमबारी की आलम ए इस्लाम के बहुत सी शख्सियतों...

भारत का इतिहास : दिल्ली सल्तनत-मामलूक अथवा ग़ुलाम वंश : नसीरूद्दीन महमूद, पवित्र क़ुरआन अपने हाथों से क्या करता था जिसे जानने के बाद

नसिरुद्दीन महमूद (1246-1266 ई.) इल्तुतमिश का कनिष्ठ पुत्र तथा ग़ुलाम वंश सुल्तान था। यह 10 जून 1246 ई. को सिंहासन पर बैठा। उसके सिंहासन...

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Must read

spot_img