नई दिल्ली:    उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में पुलिस ने हिंदू युवा वाहिनी के जिला अध्यक्ष आयुष त्यागी के अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ कथित भड़काऊ भाषण को लेकर उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है।

एक पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि आरोपी के खिलाफ मुरादनगर पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता की धारा 153ए (धर्म, नस्ल के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) और 505 (2) (सार्वजनिक शरारत) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

यह घटना उसी दिन की है, जब उत्तर प्रदेश में भाजपा सत्ता में लौटी थी।

आईएएनएस द्वारा एक्सेस किए गए 59 सेकेंड के एक वीडियो में त्यागी को एक मंच से एक सभा को संबोधित करते हुए अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर हटाने के लिए कहते हुए सुना जा सकता है। वह कह रहे हैं कि लाउडस्पीकर वे खुद हटा लें, वरना हिंदू युवा वाहिनी हटा देगी।

पुलिस अधिकारी ने कहा कि सोशल मीडिया और अन्य प्लेटफॉर्म पर वीडियो वायरल होने के बाद उन्होंने खुद इसका संज्ञान लिया। अधिकारी ने पुष्टि की कि अभी तक मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। इस बीच, उसी कथित भड़काऊ भाषण को लेकर दिल्ली के शाहीनबाग थाने में भी शिकायत दर्ज कराई गई है।

शिकायतकर्ता आरफा खानम ने अपनी शिकायत में कहा कि त्यागी के बयानों से अल्पसंख्यक समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंची है।

उन्होंने कहा, मैं पुलिस विभाग से इस तरह के भड़काऊ भाषण देने वाले व्यक्ति के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करने का अनुरोध करती हूं।

दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि अब तक कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है, क्योंकि कथित भड़काऊ भाषण गाजियाबाद में दिया गया था।

अधिकारी ने कहा, हम शिकायत का विश्लेषण कर रहे हैं और अभियोजन शाखा से परामर्श करने के बाद निर्णय लेंगे।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment