2022 विधानसभा चुनाव से पहले एक ओर कांग्रेस जहां तेजी से रन जुटाने की कोशिश कर रही है तो नवजोत सिंह सिद्धू की गुगली से पार्टी हिट विकेट होती दिख रही है। पहले लड़-झगड़कर पंजाब कांग्रेस के कैप्टन बने और फिर अचानक इस्तीफा देकर पार्टी को मझधार में डालने वाले सिद्धू ने यह कह डाला है कि कांग्रेस 2022 तक मर जाएगी। लखीमपुर खीरी में पत्रकार रमन कश्यप के घर मौन व्रत पर बैठे सिद्धू का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। लखीमपुर के लिए मार्च पर निकलते हुए सिद्धू ने चरणजीत सिंह की बजाय खुद को सीएम बनाए जाने पर सफलता दिखाने की बात कही। इस दौरान वह अपशब्द का भी इस्तेमाल करते हैं।  

अभी तक इस्तीफा वापस नहीं लेने वाले सिद्धू लखीमपुर हिंसा के विरोध में गुरुवार को पंजाब कांग्रेस का जुलूस लेकर मोहाली से लखीमपुर खीरी के लिए निकले। वायरल वीडियो इसी यात्रा की शुरुआत के वक्त का बताया जा रहा था, जब उन्हें मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का इंतजार करना पड़ा। सिद्धू इस दौरान निराश दिखाई दिए और अपने साथियों से बातचीत में जो कुछ उन्होंने कहा वह मीडिया के कैमरों में रिकॉर्ड हो गया। लाइव हिन्दुस्तान इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

वीडियो में पंजाब कैबिनेट के मंत्री प्रकट सिंह उन्हें यह कहकर संतोष देते हुए दिखते हैं कि चन्नी जल्द ही पहुंचने वाले हैं। पंजाब के वर्किंग प्रेजिडेंट सुखविंदर सिंह डैनी कहते हैं कि मार्च सफल रहेगा। इस सिद्धू कहते हैं, ”सफलता कहां है? यदि भगवंत सिद्ध  (नवजोत सिंह सिद्धू के पिता) के बेटे को नेतृत्व दिया गया होता, तब आप देखते…. 2022 तक कांग्रेस मर जाएगी। इस दौरान वह अपशब्द का भी इस्तेमाल करते हैं।  

https://twitter.com/intolerant_kd/status/1446499291573280769?s=21

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो पर कांग्रेस पार्टी या खुद नवजोत सिंह सिद्धू की ओर से अभी कुछ नहीं कहा गया है। हालांकि विपक्ष हमलावर हो गया है। अकाली दल के नेताओं ने सिद्धू के बयान की निंदा करते हुए कहा कि वह दलित समुदाय के मुख्यमंत्री का सम्मान नहीं करते हैं। अकाली दल के नेता डॉ. दलजीत सिंह चीमा ने कहा, ”जो व्यक्ति लोगों के कल्याण से ऊपर अपनी आकांक्षाओं को रखता है, राज्य को कोई दिशा नहीं दे सकता है। वे एक्सपोज हो गए हैं।”  

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment