19.1 C
Delhi
Friday, December 2, 2022
No menu items!

ब्राजील सरकार ने जब्त किए IPhone, Apple कंपनी को लगा झटका, जानें इसकी वजह

- Advertisement -
- Advertisement -

Apple: रिटेल बॉक्स में बिना चार्जर के Iphone बेचना एप्पल को भारी पड़ गया है. इसके चलते कंपनी के लिए एक बड़ी मुसीबत खड़ी हो गई है. ब्राजील के विभिन्न दुकानों सैकड़ों आईफोन जब्त कर लिए गए हैं.

क्योंकि कंपनी अपने Smart Phone बिना चार्जर के बेच रही थी. ये iphone ब्राजील सरकार के आदेश के बाद जब्त किए गए हैं. बिना चार्जर के आईफोन बेचने को लेकर एप्पल के खिलाफ कंपनी की तरफ से ऐसी कार्रवाई पहली बार नहीं की गई है. इससे पहले भी इसी वजह से Apple पर ब्राजील में दो बार जुर्माना लगाया जा चुका है.

- Advertisement -

9To5Mac की एक रिपोर्ट से पता चला है कि देश ने कई स्टोर्स में iPhones को जब्त करने की यह कार्रवाई की, और ब्राजीली अधिकारियों की तरफ से इसके नवीनतम आंदोलन को “ऑपरेशन डिस्चार्ज” नाम दिया गया है. जानकारी के मुताबिक आईफोन को कैरियर स्टोर्स के साथ-साथ कंपनी के अधिकृत पुनर्विक्रेता स्टोर्स पर भी जब्त किया गया है. एप्पल के खिलाफ यह कार्रवाई फोन के साथ चार्जर नहीं बेचने की वजह से की गई है.

बता दें कि Apple ने iPhone 12 श्रृंखला के साथ चार्जर की शिपिंग बंद कर दी है. इसकी लॉन्चिंग के कुछ दिनों बाद से ही ब्राजील सरकार की तरफ से फैसले पर आपत्ति जताना शुरू हो गया था. ब्राजील सरकार द्वारा iPhones को जब्त करने के ठीक बाद, Apple (ब्राज़ील) ने सरकार से अनुरोध किया कि वे आईफोन को वापस कर दें. क्योंकि iPhone निर्माता को कथित तौर पर अंतिम निर्णय पारित होने तक स्मार्टफोन बेचने की अनुमति दी गई थी.

ऐप्पल पर लगा था इतना जुर्माना

अक्टूबर में बॉक्स में चार्जर नहीं भेजने के लिए Apple पर BRL 100 मिलियन (लगभग 150 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया गया था और इसके लिए कंपनी ने कहा कि वह अदालत में अपील करेगी. ऐप्पल के खिलाफ यह साओ पाउलो राज्य अदालत का फैसला उधारकर्ताओं, उपभोक्ताओं और करदाताओं के संघ द्वारा मुकदमा दायर किए जाने के बाद आया था, जिसमें कहा गया था कि ब्रांड बिना चार्जर के अपने प्रीमियम उपकरणों को बेचना अपमानजनक व्यवहार है. इसके लिए सितंबर में Apple पर पहले भी लगभग 2.5 मिलियन डॉलर का जुर्माना लगाया गया था.

अधिकारियों ने दिया ये बयान

ब्राजील के अधिकारियों का भी बयान सामने आया है, जिसमें बताया गया है कि कंपनी को शुरू में ब्राजील में अपने आईफोन बेचने से प्रतिबंधित कर दिया गया था, जब तक कि वह बॉक्स में चार्जर भी पेश करने की योजना नहीं बना रही थी. बाद में नया फाइनल होने तक यूनिट बेचने की इजाजत मिल गई. चार्जर नहीं होने की वजह से लोगों को अतिरिक्त पैसा लगाना पड़ता है. जो कि नियमों के खिलाफ है.

ऐप्पल को आईफोन से साथ बेचना होगा चार्जर

वहीं, कंपनी की तरफ से पर्यावरण बचाने की बात कहकर पैसा बचाने की कोशिश कर रही है. देश ने कहा कि यह एक महत्वपूर्ण एक्सेसरी है जिसकी जरूरत फोन की बैटरी को चार्ज करने के लिए पड़ती है और आईफोन इसके बिना काम नहीं कर सकता. इसलिए अदालत के फैसले के मुताबिक ऐप्पल को बॉक्स में चार्जर भी भेजना होगा.

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img