भोपाल: कोरोना महामारी की तीसरी लहर आने की आशंका जताई जा रही है. ऐसे में जहां सरकार अपने स्तर पर तैयारी में जुटी है, वहीं भाजपा भी लोगों की सेवा के लिए कमर कस रही है. बता दें कि कोरोना की तीसरी लहर में लोगों की सेवा के लिए भाजपा 2 लाख स्वयंसेवकों की फौज उतारने जा रही है. पार्टी के ये स्वयंसेवक गांव-गांव में लोगों की मदद करेंगे. 

पार्टी दे रही ट्रेनिंग
भाजपा इन स्वयंसेवकों को पूरी ट्रेनिंग के साथ फील्ड में उतारेगी. इसके लिए अभी भाजपा कार्यालय पर इन स्वयंसेवकों को प्राथमिक उपचार की ट्रेनिंग दी जा रही है. ट्रेनिंग के बाद प्रदेश के 65 हजार बूथों पर इन स्वयंसेवकों को प्राथमिक उपचार किट के साथ तैनात किया जाएगा. भाजपा स्वयंसेवक गांव-गांव जाकर लोगों की मदद करेंगे.

छवि बेहतर करने की कोशिश
इस पूरी कवायद के जरिए पार्टी की मंशा छवि सुधारने की है. दरअसल स्वास्थ्य स्वयंसेवक बनाकर बीजेपी यह संदेश देना चाहती है कि उस समाज के प्रत्येक व्यक्ति की चिंता है. गौरतलब है कि कोरोनाकाल के दौरान विपक्ष के आरोपों से सरकार की छवि को थोड़ा नुकसान पहुंचा है. ऐसे में पार्टी की कोशिश है कि जनसेवा करके छवि को बेहतर और मजबूत किया जाए.

पार्टी अपने स्वास्थ्य स्वयंसेवकों को ऑक्सीमीटर, थर्मामीटर और प्राथमिक उपचार किट देगी, ताकि वह इनकी मदद से लोगों की निशुल्क सेवा कर सकें. भाजपा के प्रदेश प्रभारी लोकेंद्र पाराशर का कहना है कि समाज के लिए पार्टी संगठन ने यह कदम उठाया है. हर बूथ पर एक महिला और एक पुरुष स्वयंसेवक की तैनाती होगी. जिससे लोगों को समय पर प्राथमिक इलाज मिल सके. प्रदेश के कोने-कोने से पार्टी कार्यकर्ता ट्रेनिंग लेने के लिए भाजपा कार्यालय पहुंच रहे हैं. 

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment