[email protected]

अल्पसंख्यकों की पहचान मिटाना चाहती है भाजपा-आरएसएस: इमरान प्रतापगढ़ी

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष इमरान प्रतापगढ़ी ने दिल्ली के कॉन्स्टिटूशनक्लब में सिक्ख समुदाय के लिए आयोजित एक नई पहल कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए इमरान प्रतापगढ़ी ने कहा कि जब से वह अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष नियुक्त किए गए हैं तबसे उनका प्रयास है कि ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन हो जिसमें अल्पसंख्यक समुदाय के विभिन्न समुदायों से रूबरू होने का मौक़ा मिले। आपसी विचार विमर्श संवाद एवं पारस्परिक सुझावों के ज़रिए एक बेहतर प्लैट्फ़ॉर्म और अच्छे समाज को निर्माण करने का मौक़ा मिले।

इमरान प्रतापगढ़ी ने कहा कि जब से देश में भाजपा की सरकार आयी है लोकतंत्र लगातार कमज़ोर हो रहा है आज अल्पसंख्यक समुदाय से जुड़े सभी वर्गों चाहे उसमें सिक्ख हों, जैन हों ईसाई हों या मुसलमान सभी को निशाना बनाया जा रहा है, सरकारी मशीनरी के ज़रिए बर्बाद किया जा रहा है जिसका चुनाव में फ़ायदा उठाया जा सके। आज अल्पसंख्यकों की पहचान को, उनके इतिहास को, उनकी भाषा को ख़त्म करने के लिए नए नए मंसूबे बनाए जा रहे हैं। कभी एतिहासिक शहरों कभी इमारतों तो कभी मार्गों तक के नाम बदले जा रहे हैं। 
इस मौक़े पर देश भर के तमाम सिक्ख नेताओं ने इमरान प्रतापगढ़ी के समक्ष अपनी बात रखी। महाराष्ट्र  से आए एक नेता ने कहा कि सिक्ख समुदाय ने ने कभी कांग्रेस का साथ नहीं छोड़ा है और ना छोड़ेगा आज सिक्ख समाज और ज़्यादा गहराई से कांग्रेस के साथ जुड़ा है और बहुत सारी सीटें जिताने में अहम भूमिका निभाएगा सिक्ख समुदाय को अधिक से अधिक भागीदारी और प्रतिनिधित्व मिलना चाहिए जिस पर इमरान प्रतापगढ़ी ने कहा कि कांग्रेस ने कभी अल्पसंख्यकों की अनदेखी नहीं की और अल्पसंख्यकों में आने वाले सभी वर्गों मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई, और जैन समाज के लोगों को बराबर प्रतिनिधित्व दिया है कांग्रेस ने जार्ज फ़र्नांडीस, फखरुद्दीन अली अहमद, अबुल कलाम आज़ाद और प्रदीप जैन जैसे लोगों को अहम जिम्मेदारियाँ दी हैं इससे साबित होता है कि कांग्रेस ही अल्पसंख्यकों की हितैषी है और कांग्रेस पार्टी ने ही मनमोहन सिंह को 10 साल तक प्रधानमंत्री बनाया और पंजाब से बाहर भी सिक्ख समुदाय के लोगों को अलग- अलग पदों पर भी बिठाया।

इमरान प्रतापगढ़ी ने कहा की उन्होंने अपने सभी प्रदेशों के अध्यक्षों से कहा है कि वो अपनी कमेटी में सभी अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों को स्थान दें। 

कार्यक्रम को विशिष्ट अतिथि के तौर पर संबोधित करते हुए अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष नेटा डिसूज़ा ने घोषणा की कि वह भी महिला कांग्रेस में अल्पसंख्यक समुदाय के सभी वर्गों को जगह देंगी। अंत में कार्यक्रम के संचालक महिंदर बोहरा ने अतिथियों का आभार प्रकट करते हुए कहा कि कांग्रेस ही सिक्खों की असली हमदर्द है उन्होंने इमरान प्रतापगढ़ी से अपील की कि कांग्रेस के सभी नेताओं को सिक्खों के धार्मिक आयोजनों में भाग लेना चाहिए।

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×