14.1 C
London
Friday, May 31, 2024

सांसद असदुद्दीन ओवैसी पर हमले के खिलाफ बोले भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी, ओवैसी राष्ट्रवादी नहीं लेकिन सच्चा देशभक्त

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी पर हुए हमले की बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने तीव्र आलोचना की है। हमले की आलोचना करते हुए स्वामी ने कहा है कि ओवैसी राष्ट्रवादी भले ही नहीं हैं, लेकिन वो देशभक्त हैं। उनपर हमला कट्टरवादी सोच का ही शख्स कर सकता है।

स्वामी ने शनिवार को ट्वीट करके ये बातें कही है। उन्होंने ट्वीट कर कहा- “केवल तर्कहीन कट्टरपंथी ही ओवैसी की हत्या करना चाहेंगे। ओवैसी राष्ट्रवादी न होते हुए भी देशभक्त हैं। अंतर यह है कि ओवैसी हमारे देश की रक्षा करेंगे, लेकिन वह नहीं मानते हैं कि हिंदू-मुस्लिम का डीएनए एक ही है। हमें उनके तर्कों को प्रखरता से जवाब देना चाहिए न कि बर्बरता से”।

बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए गुरुवार को मेरठ पहुंचे ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख और सांसद असदुद्दीन ओवैसी पर दिल्ली वापसी के समय हमला किया गया था। उनके काफिले पर फायरिंग की गई थी। ओवैसी ने इस घटना को लेकर संसद में सरकार पर भी हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि इस हमले से साफ हो गया है कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति कैसी है।

ओवैसी पर यह हमला हापुड़ के छाजरसी टोल के पास हुआ था। ओवैसी की कार पर गोलियां चलाई गईं थी। बाद में इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। हमले के बाद ओवैसी को जेड प्लस सुरक्षा की पेशकश की गई थी, जिसके लिए उन्होंने इनकार कर दिया है। उन्होंने मांग की है कि आतंकवाद विरोधी कानून के तहत आरोपियों पर कार्रवाई की जानी चाहिए।

इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में खुलासा किया कि उन्होंने गुस्से में ओवैसी पर हमला किया था। आरोपी ओवैसी के बयानों से नाराज थे। मेरठ के आईजी प्रवीण कुमार पूरे मामले पर नजर बनाए हुए हैं और उनके द्वारा जांच की निगरानी की जा रही है। दोनों आरोपितों के परिजनों से भी पूछताछ की जा रही है।

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here