नई दिल्‍ली: बीजेपी नेता एवं पूर्व सांसद किरीट सोमैया (Kirit Somaiya) और उनके बेटे नील सोमैया के खिलाफ मुंबई के ट्रॉम्‍बे थाने में केस दर्ज किया गया है. इन दोनों के खिलाफ यह केस आईएनएस विक्रांत (INS Vikrant) को बचाने के नाम पर पैसे जमा करने और ठगी करने के आरोप में दर्ज किया गया है. सोमैया और उनके बेटे के खिलाफ यह एफआईआर आईपीसी की धारा 420, 406, 34 के खिलाफ दर्ज की गई है. 

संजय राउत ने लगाया था आरोप 

किरीट सोमैया और उनके बेटे नील के खिलाफ पूर्व सैनिक बबन भोसले ने मामला दर्ज कराया है. इसके पहले शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने दावा किया था कि आईएनएस विक्रांत को बचाने के नाम पर 57 करोड़ रुपये का घोटाला हुआ है. उन्‍होंने सवाल उठाया था कि आईएनएस विक्रांत (INS Vikrant) को बचाने के लिए जो पैसे जमा किए थे, वह कहां गए? गौरतलब है कि प्रवर्तन निदेशालय द्वारा जमीन के सौदों से जुड़ी मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कार्रवाई के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत ने बीजेपी नेता किरीट सोमैया पर यह आरोप लगाया था. 

राजभवन के पास नहीं है जानकारी 

संजय राउत ने कहा था कि आईएनएस विक्रांत को बचाने के लिए BJP ने मुहिम चलाई थी और लोगों से पैसे जमा किए थे. ये पैसे राजभवन में जमा होने थे और किरीट सोमैया ने तब राजभवन में पैसे जमा करने की बात की थी, लेकिन जब राजभवन से जानकारी मांगी तो ऐसे किसी पैसे की जानकारी नहीं मिली. सोमैया ने इस पैसे का इस्‍तेमाल अपने बिजनेस में किया है. 

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment