समस्तीपुर. बिहार में कानून व्यस्था बिल्कुल बिगड़ चुकी है यहां पर अपराधी कानून को अपने हाथ में लेकर नित नए अपराधों को अंजाम से रहे है इसी क्रम में बिहार के समस्तीपुर (Samstipur) में सोमवार को जमकर खूनी संघर्ष हुआ. एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई जिसके बाद आक्रोशित लोगों ने पहले तो आरोपी के घर में आग लगा दी और और जमकर तोड़फोड़ की. इस दौरान उन्मादी भीड़ ने उसके परिवार के सदस्यों के साथ मारपीट भी की जिसमें आरोपी की पत्नी की मौके पर ही मौत हो गयी. यह सनसनीखेज मामला समस्तीपुर के मुफस्सिल थाने इलाके का है.

उप मुखिया पर आरोपअहले सुबह लोग ठीक से सोकर जगे भी नहीं थे कि इलाका फायरिंग से थर्रा उठा. पानी बहाने को लेकर रविवार की शाम से शुरू हुए विवाद में आधारपुर पंचायत के उप मुखिया मोहम्मद हसनैन द्वारा पेशे से किसान युवक श्रवण कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी गई. हत्या की इस वारदात के बाद ग्रामीणों का आक्रोश इतना भड़का कि लोगों ने आरोपी उप मुखिया के घर में घुसकर जमकर तोड़फोड़ की और आग लगा दी. इस घटना में उप मुखिया के घर के बाहर खड़ी गाड़ी और घर का सामान जलकर खाक हो गया. आक्रोशित लोगों का गुस्सा इतना पर ही नहीं थमा.

जल निकासी को लेकर हुआ था विवाद

लोगों ने घर के फर्नीचर को सड़क पर ला करके आग के हवाले कर दिया  वहीं हत्या के विरोध में आरोपी उप मुखिया के परिवार के लोगों के साथ भी जमकर मारपीट की गई. इस घटना में आरोपी उप मुखिया की पत्नी सनोवर खातून की मौके पर ही मौत हो गई  वही दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिन्हें सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया जिसमें एक की हालत काफी गंभीर बनी हुई है. जानकारी के मुताबिक लगातार हो रही बारिश के वजह से मृतक श्रवण कुमार के घर पर काफी जलभराव हो गया था जिसे हटाने के लिए ग्रामीणों के सहयोग से रास्ते को काटकर एक पाइप लगाया गया. इसका विरोध उप मुखिया के द्वारा किया गया था.

पहले धमकाया फिर गोली मारकर ले ली जान

रविवार की शाम में उप मुखिया द्वारा धमकी दी गई कि गोली मारकर हत्या कर दी जाएगी जिसके बाद सोमवार की सुबह जब श्रवण कुमार चाय पीने के लिए चौक की तरफ गया उसी दौरान उप मुखिया के द्वारा फायरिंग की गई जिसमें गोली श्रवण कुमार को लगी और मौके पर ही उसकी मौत हो गई. गोली मारकर हत्या और हंगामे की सूचना मिलने के बाद बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ सदर एसडीओ रविंद्र कुमार दिवाकर और सदर डीएसपी प्रतिश कुमार मौके पर पहुंचे और सड़क जाम और हंगामा कर रहे लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया.

कैंप कर रही पुलिस

पुलिस ने साथ ही दोनों शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. घटना की सूचना पर मौके पर समस्तीपुर जिला अधिकारी शशांक शुभंकर और दरभंगा प्रक्षेत्र के आईजी भी मौके पर पहुंचे और मामले की जांच की. हत्या का मुख्य आरोपी घटना के बाद मौके से फरार है. इस मामले में जिलाधिकारी ने बताया कि जो भी मामले में दोषी होंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment