मथुरा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अयोध्या में 6 दिसंबर यानी बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी को देखते हुए हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है. अयोध्या ही नहीं मथुरा (Mathura) में भी इसको लेकर विशेष अलर्ट के साथ सुरक्षा व्यवस्था चौकस कर दी गई है. 6 दिसंबर से पहले भगवान कृष्ण के धाम मथुरा में पुलिस की चप्पे-चप्पे पर तैनाती है. पुलिस ने इस मौके पर किसी को भी किसी तरह के आयोजन की अनुमति नहीं दी है. मथुरा वृन्दावन के बीच चलने वाली रेल बस का आवागमन भी रोक दिया गया है.

मथुरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर ने पूरे मथुरा में सुरक्षा का विशेष घेरा तैयार रखते हुए जवानों को पल पल पर नजर रखने को कहा है. इस दौरान कोई शरारती हरकत न हो इसको लेकर सख्त हिदायत भी दे दी गई है. एसएसपी के मुताबिक कुछ हिंदूवादी संगठनों द्वारा छह दिसंबर को परंपरा से हटकर कार्यक्रमों के आयोजन की अनुमति मांगी जा रही थी. इस पर उन्हें अनुमति नहीं दी गई है.

सुरक्षा के लिहाज से रेलवे ने भी बड़ा कदम उठाया है. मथुरा वृन्दावन के बीच चलने वाली रेल बस का आवागमन अगले आदेश तक रोक दिया है. यह रेल बस ईदगाह के सामने और श्रीकृष्ण जन्मस्थान के पास से होकर गुजरती है. इसी को लेकर रेलवे ने इसे स्थगित करने का फैसला लिया. कुल मिलाकर प्रशासन किसी भी तरह ही ढिलाई बरतने के मूड में नहीं है, जिससे की शांति व्यवस्था भंग होने के हालात बनें.

तीन जोन में बंटा मथुरा

इसके अलावा प्रशासन ने इलाके को रेड, येलो और ग्रीन जोन में बांटा है. उसी तरह से उन इलाकों में भारी पुलिस बल की तैनाती की गई है. दोनों धर्मस्थलों के 300 मीटर क्षेत्र में बने रेड जोन पर आने जाने वालों पर नजर रखी जा रही है. सुरक्षा को देखते हुए बाहर से भी पुलिस बलबलाया गया है. इसके साथ ही संगठनों को सख्त हिदायत जारी कर दी गई है.

हिंदूवादी संगठनों को नहीं दी गई अनुमति

सुरक्षा को लेकर जन्मभूमि स्थल से करीब 500 मीटर दूरी तक विशेष सुरक्षा घेरा तैयार किया गया है. पुलिस की नजर आस पास के मकानों के साथ हिंदूवादी संगठनों पर भी है. 6 दिसंबर को नारायणी सेना, श्रीकृष्ण जन्मभूमि नर्मिाण न्यास, श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्ति दल की ओर से परंपरा से हटकर अलग अलग कार्यक्रम करने की घोषणा की थी. इस पर प्रशासन ने उन्हें कोई अनुमति नहीं दी है.

सुरक्षा में खड़ी हुई अफसर और जवानों की फौज

पुलिस अधिकारियों की मानें तो मथुरा में पुलिस पूरी तरह से अलर्ट है. सुरक्षा को लेकर व्यूह रचना कर ली गई है. 6 दिसम्बर के लिए अभी से पांच अपर पुलिस अधीक्षक, 14 पुलिस उपाधीक्षक, 40 इंस्पेक्टर, 1400 हेडकांस्टेबल व कांस्टेबल, 10 कम्पनी पीएसी एवं 16 कम्पनी आरएएफ लगाई गई है. इसके अलावा खुफिया एजेंसियां मु​स्तैद हैं.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

The world is about to receive just the news it needs. My team and I believe that journalism can change the world and we are on a mission to ensure that this happens.

Leave a comment