6 C
London
Sunday, April 21, 2024

बांग्लादेश: जबरदस्त धमाके से दहली राजधानी ढाका, सात लोगों की मौत, 70 से ज्यादा जख्मी

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

बांग्लादेश (Bangladesh) की राजधानी ढाका (Dhaka) में रविवार देर रात हुए धमाके (Blast) में सात लोगों की मौत हो गई, जबकि 70 से ज्यादा लोग घायल हो गए. अधिकारियों ने फिलहाल इस धमाके के पीछे की वजह गैस सिलेंडर में हुआ ब्लास्ट (Cylinder Blast) माना है. ढाका के पुलिस कमिश्नर शफीकुल इस्लाम ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि अभी तक हमें ये मालूम चला है कि इस धमाके में सात लोगों की मौत हुई है. उन्होंने कहा कि मोघबाजार (Moghbazar) इलाके में हुए धमाके में सात इमारतों और तीन यात्री बसों को नुकसान पहुंचा है.

फायर ब्रिगेड के प्रमुख ब्रिगेडियर जनरल सज्जाद हुसैन ने कहा कि शुरुआती सबूतों से पता चलता है कि गैस सिलेंडर में हुए विस्फोट के चलते ये धमाके हुए. लेकिन हमें अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि यह वास्तव में कैसे हुआ. हुसैन ने कहा कि पास की इमारत के ग्राउंड फ्लोर पर एक रेस्तरां में गैस सिलेंडर था और ऊपर वाली मंजिल पर एक शोरूम में एयर कंडीशनर थे. जबकि घटनास्थल के पास सड़क बनाने का काम चल रहा था. वहां पर भी गैस सिलेंडर मौजूद थे. फिलहाल इन कड़ियों को लेकर जांच शुरू कर दी गई है. जल्द ही इस मामले में सभी जानकारी सामने होगी.

धमाके की आवाज सुनकर सहमे लोग

टीवी चैनल्स ने बताया कि इस धमाके में दर्जनों लोग घायल हुए. अधिकतर जख्मी होने वाले लोगों में बस यात्री और पास से गुजर रहे राहगीर शामिल थे. हादसे में घायल हुए लोगों का तीन अस्पतालों में इलाज चल रहा है. डॉक्टरों का कहना है कि इनमें से अधिकतर लोगों को जलने की गंभीर चोटें आई हैं. इस पड़ोस में रहने वाले लोगों का कहना है कि धमाके ने शहर के इस हिस्से को हिलाकर रख दिया. लोगों को बीच दहशत का माहौल था. टीवी चैनल्स पर देश की राजधानी के मध्य हिस्से में हुए इस धमाके के बाद घटनास्थल पर टूटे हुए पिलर्स, कंक्रीट और ग्लास के टुकड़ों को बिखरा हुआ देखा जा सकता था.

चश्मदीदों ने बताया धमाके के हालात

धमाके का शिकार हुए 50 वर्षीय ताजुल इस्लाम ने कहा कि जिस दौरान धमाका हुआ, उस समय मैं बस में था. मैं एक खिड़की से बाहर कूद गया. शुरू में मुझे लगा कि बस में मौजूद गैस सिलेंडर में धमाका हुआ है. मैंने अपने जीवन में कभी भी इतना बड़ा धमाका नहीं देखा है. ताजुल ने बताया कि धमाके की वजह से उनकी कमर में चोट आई है और उन्हें सुनने में भी कठिनाई हो रही है. एक अन्य चश्मदीद ने बताया कि उसने आग के गोले को अपने सिर के ऊपर से जाते हुए देखा. धमाके के तुरंत बाद पूरा इलाका धुएं और अंधकार से पट गया. उसने बताया कि धमाके की आवाज इतनी तेज थी कि सभी लोग डर गए.

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here