ज्ञानवापी मस्जिद विवाद को लेकर बयानबाजी तेज है, मामले में आए दिन नए-नए बयान आ रहे हैं. अब अयोध्या राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद भूमि विवाद में मुस्लिम पक्षकार रहे हाजी महबूब ने ज्ञानवापी परिसर में सर्वे के दौरान हिंदू पक्षकार के द्वारा शिवलिंग मिलने के दावे को लेकर बड़ा बयान दिया है।

अपने तल्ख तेवर और सख्त बयान बाजी से जाने जाने वाले हाजी महबूब ने ज्ञानवापी को लेकर देश की न्यायपालिका, सरकार और सिस्टम पर बड़ा आरोप लगाया है. अयोध्या में हाजी महबूब ने आरएसएस और बजरंग दल पर भी बड़े आरोप लगाए हैं. हाजी महबूब ने कहा है कि अगर कोर्ट बिक गया तो ज्ञानवापी का फैसला राम मंदिर की तरह हो जाएगा. वहीं हाजी महबूब ने चेतावनी भी दी है कि अगर ज्ञानवापी को जबरदस्ती लेने की सोच रहे हैं तो यह बेहद गलत होगा इसका अंजाम बहुत बड़ा होगा.

हाजी महबूब ने कहा है कि बाबरी मामले पर सभी अदालतों ने मुस्लिम पक्ष में अपना फैसला दिया था बाद में वह सारे फैसले राम मंदिर के पक्ष में हो गए फिर भी देश के मुसलमान खामोश रहे. अयोध्या की तरह अन्य मामले को लेकर दबाव बनाया जा रहा है और अगर यह सोचा जा रहा है कि हम पर दबाव बना लिया जाएगा तो यह उनकी गलतफहमी है. ज्ञानवापी परिसर में सर्वे के दौरान शिवलिंग मिलने के दावे को हाजी महबूब ने सिरे से खारिज कर दिया. हाजी महबूब ने कहा है कि वह एक फवारा है शिवलिंग नहीं. ज्ञानवापी पर अगर जबरदस्ती हुई तो पूरे देश में बड़ा आंदोलन छिड़ जाएगा जिस आंदोलन से पूरा देश बर्बादी के रास्ते पर आ जाएगा और पूरा मुल्क बर्बाद हो जाएगा.

ज्ञानवापी, मथुरा की ईदगाह को लेकर मुसलमानों को डराने की कोशिश: हाजी महबूब

अयोध्या राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद भूमि विवाद में मुस्लिम पक्षकार रहे हाजी महबूब ने कहा कि ज्ञानवापी, मथुरा की ईदगाह को लेकर मुसलमानों को डराने की कोशिश हो रही है. देश के मुसलमान अब डरने वाले नहीं है आरएसएस अयोध्या में बाबरी मस्जिद के बाद अब ज्ञानवापी वह मथुरा के ईदगाह को लेने का प्रयास कर रही है. अगर ऐसा हुआ तो पूरे देश में एक बड़ा आंदोलन छिड़ जाएगा. हाजी महबूब बाबरी एक्शन कमेटी के सदस्य भी रहे हैं हाजी महबूब ने बाबरी मस्जिद की तरफ से वर्षों तक अदालत में लड़ाई लड़ी है, अदालत में राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद के मुकदमे के दौरान भी हाजी महबूब ने सरकार और न्यायपालिका को लेकर कई विवादित बयान दिए हैं.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave a comment