असामाजिक तत्वों ने अयोध्या में दो मस्जिदों के गेट व एक मोहल्ले की सड़क पर आपत्तिजनक वस्तुएं फेंककर शहर का सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने का प्रयास किया. इस मामले में अयोध्या पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

अयोध्या के SSP शैलेश पांडेय ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि 11 लोग इस घटना में शामिल थें, मुख्य आरोपी महेश मिश्रा था. उसने अपने साथियों के साथ घटना को अंजाम दिया. उन्होंने आगे बताया कि इस मामले में 7 आरोपी गिरफ़्तार हो गए हैं और बाकि 4 लोगों को जल्द ही गिरफ़्तार कर लिया जाएगा. 

अयोध्या के शांतिपूर्ण माहौल को मंगलवार की देर रात बिगाड़ने की कोशिश की गई, हालांकि हालात बिगड़े नहीं. फिलहाल पुलिस ने वारदात को बेहद गंभीरता से लिया है और शिकायत के आधार कई आरोपियों को अब हिरासत में ले लिया है. बता दें कि कोतवाली नगर क्षेत्र के वक्फ जामा मस्जिद टाटशाह के पास वारदात को रात दो बजे अंजाम दिया गया है. आरोप है कि बाइक सवार लोगों नेधर्मस्थल की सीढ़ी पर पवित्र ग्रंथ खराब हालात में रखा और आपत्तिजनक वस्तु के साथ एक पोस्टर को फेंक कर चले गए.

मस्जिद के सीसीटीवी में सारी घटना कैद हुई है। वहीं, मोहल्ला काश्मीरी मस्जिद व घोसियाना मोहल्ले में भी इसी तरह की सामग्री पड़ी मिली, जिसकी सूचना भी पुलिस को दी गई. वहीं इस घटना पर जिलाधिकारी नितीश कुमार ने कहा कि जिले में शांति व्यवस्था कायम है. उन्होंने आम जनता से अपील की है कि कोई भी आवांछनीय तत्वों के बारे में जानकारी मिलने पर सूचना दें. एसएसपी शैलेष पाण्डेय ने बताय कि आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर व एनएसए की कार्रवाई की जाएगी.

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment