[email protected]

मोर्गन के साथ हुई झड़प को लेकर पहली बार आया अश्विन का बयान

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली कैपिटल्स और KKR के बीच मैच में हुए अश्विन-मोर्गन विवाद पर अब टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर ने खुलकर बात की है। रविचंद्रन अश्विन ने कहा है कि हाल ही में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मुकाबले में उनके आउट होने के बाद जिस तरह से टिम साउदी और इयोन मोर्गन ने जश्न मनाया, वो अनावश्यक था।

KKR कप्तान इयोन मोर्गन अश्विन के अतिरिक्त रन लेने से खुश नहीं दिखे और उनका कहना था कि अश्विन ने खेल भावना का पालन सही से नहीं किया। हालंकि एमसीसी के कानून में यह नियम मान्य है और यदि कोई बल्लेबाज इस तरह से रन लेना चाहता है तो ले सकता है और अश्विन ने वही किया।

अश्विन ने इस मुद्दे को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि “मुझे लगता है कि यह निश्चित रूप से मेरी वक्तिगत लड़ाई नहीं है। शायद कुछ लोग इस मुद्दे को बड़ा बनाकर सबका ध्यान आकर्षित करना चाहते होंगे, लेकिन मेरी ऐसी कोई मंशा नहीं है। उस दिन जो कुछ भी हुआ, वो मैच के माहौल को देखते हुए हुआ। मैं उस दौरान काफी चार्ज हो गया था क्योंकि जिस तरह साउदी और मोर्गन ने विकेट मिलने के बाद जश्न मनाया, वो सही नहीं था।”

खिलाड़ियों ने सही शब्द का प्रयोग नहीं किया था

इस विवाद पर अपनी बात आगे रखते हुए रविचंद्रन अश्विन ने कहा, “मुझे नहीं पता था कि गेंद ऋषभ पंत को लगी है, जिसके कारण मुझे ऐसा लगा कि वो लोग पहले से ही मुझे निशाना बनाने का निर्णय करके आए थे। इसलिए मैंने कहा कि उनके खिलाड़ियों ने जिस तरह के शब्द का इस्तेमाल किया, वो सही नहीं था।”

इसके अलावा, अश्विन ने कहा, “हमें ये भी समझने की जरूरत है कि इंग्लैंड और भारत सांस्कृतिक रूप से बिल्कुल अलग हैं। क्रिकेट के मामले में दोनों देशों की सोच भी एक-दूसरे से काफी अलग है खिलाड़ियों की सोच में भी अंतर है। मैं नहीं कह रहा हूं कि यहां किसी की गलती है। बात सिर्फ इतनी सी है कि 1940 के दशक के जिस तरह क्रिकेट खेला जाता था, वैसा आज कोई नहीं खेल सकता।”

फेसबुक पर ताजा ख़बरें पाने के लिए लाइक करे

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -
×