पार्टी से बाहर होते ही पूर्व भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा के सुर बदलते दिख रहे हैं। पैगंबर मोहम्मद साहब पर दिए गए अपने बयान को लेकर अब नूपुर शर्मा ने सफाई दी है। उसने कहा कि अगर किसी की भावनाएं उनकी टिप्पणियों से आहत हुईं हैं तो वो अपने शब्द वापस लेती हैं। वहीं नवीन जिंदल अपनी सुरक्षा के लिए पुलिस के पास पहुंच गया हैं।

नूपुर शर्मा ने क्या कहा- पार्टी से सस्पेंड होने के बाद नूपुर शर्मा ने ट्वीट कर कहा- “मैं पिछले कई दिनों से टीवी डिबेट पर जा रही थी, जहां रोजाना मेरे आराध्य शिवजी का अपमान किया जा रहा था। मेरे सामने यह कहा जा रहा था कि शिवलिंग नहीं फव्वारा है।

दिल्ली के हर फुटपाथ पर शिवलिंग पाए जाते हैं, जाओ जा कर पूजा कर लो। इस प्रकार से हमारे महादेव शिव जी के अपमान को मैं बर्दाश्त नहीं कर पाई और मैंने रोष में आकर कुछ चीजें कह दीं, अगर मेरे शब्दों से किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची हो तो मैं अपने शब्द वापस लेती हूं। मेरी मंशा किसी को कष्ट पहुंचाने की कभी नहीं थी।”

नूपुर शर्मा ने आगे अपील करते हुए कहा कि सभी मीडिया घरानों और अन्य सभी से अनुरोध करती हूं कि मेरा पता सार्वजनिक न करें। मेरे परिवार की सुरक्षा को खतरा है।

नवीन जिंदल ने क्या कहा- नूपुर शर्मा के अलावा एक और नेता को बीजेपी ने पार्टी से बाहर निकाल दिया है। पार्टी ने दिल्ली बीजेपी मीडिया हेड नवीन जिंदल को उनके विवादित बयानों के कारण टर्मिनेट कर दिया है। इसके बाद नवीन जिंदल पुलिस के पास मदद के लिए पहुंच गया।

नवीन जिंदल का कहना है कि उसे और उसके परिवार को जान से मारने की धमकी मिल रही है। इसलिए वो पुलिस से मदद की गुहार लगा रहा हैं। उसने ट्वीट करके कहा- “मेरा सभी से विशेष आग्रह हैं कृपया मेरा पता सार्वजनिक न करें। मुझे और मेरे परिवार को लगातार जान से मारने की धमकियां सोशल मीडिया पर भी दी जा रही हैं”।

Share this article

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें.

journalist | chief of editor and founder at reportlook media network

Leave a comment