18.1 C
Delhi
Saturday, December 3, 2022
No menu items!

अरुणा बाई ने AIMIM की टिकट से भाजपा प्रत्याशी को हराया, अब कही यह बात

- Advertisement -
- Advertisement -

मध्यप्रदेश में पहली बार नगरीय निकाय चुनाव लड़ने वाली ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद उल मुस्लिमीन (AIMIM) को बुधवार को घोषित परिणाम में पार्षदों की तीन सीटों पर जीत मिली है. नगरीय निकाय चुनाव में एआईएमआईएम के जीते हुए पार्षदों की संख्या बढ़कर सात हो गई है. ये तीनों सीटें खरगोन नगरपालिका की हैं.

इस नगरपालिका के वार्ड नंबर 2 से एआईएमआईएम प्रत्याशी अरुणा बाई उपाध्याय ने भाजपा प्रत्याशी सुनीता देवी को 31 मतों से हराया.  वार्ड नंबर 15 से एआईएमआईएम प्रत्याशी शकील खान ने निर्दलीय प्रत्याशी आसिफ खान को 662 मतों से पराजित किया. वार्ड नंबर 27 से एआईएमआईएम प्रत्याशी शबनम अदीब ने निर्दलीय प्रत्याशी शकीला खान को 774 मतों से हराया.

- Advertisement -

नवनिर्वाचित पार्षद अरुणा उपाध्याय न्यूज 18 से कहा कि ये भाईचारा और वार्ड के मतदाताओं की जीत है. वार्ड के विकास की जीत है. अरुणा ने कहा कि पार्टी प्रमुख ओवैसी संविधान और देश में कानून और समानता की बात करते हैं. उनकी इसी बात से प्रभावित होकर मैंने इसी पार्टी से पार्षद का चुनाव लड़ना ठीक समझा. अरुणा का मानना है कि ये इंसानियत की जीत है. उन्होंने मतदाताओं के आभार के साथ सभी से भाईचारे के साथ रहने की अपील की. अरुणा ने वार्ड क्रमांक 2 से 31 मतों से चुनाव जीतकर भाजपा, कांग्रेस और निर्दलीय प्रत्याशियों को पटकनी दी. एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में खंडवा में एक जनसभा की थी.

एआईएमआईएम का मुख्यालय हैदराबाद में है और इस पार्टी ने पहली बार मध्यप्रदेश में नगर निकाय चुनाव लड़ा है. मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, पहले चरण के मतदान की रविवार को हुई मतगणना में एआईएमआईएम के चार प्रत्याशियों ने खंडवा नगर निगम, बुरहानपुर नगर निगम एवं जबलपुर नगर निगम चुनाव में पार्षद के पद के लिए जीत दर्ज की है.

इन चार में से जबलपुर में पार्टी के दो प्रत्याशियों ने और बुरहानपुर एवं खंडवा में एक-एक ने जीत दर्ज की है. एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में खंडवा में एक जनसभा की थी. ओवैसी ने भोपाल, इंदौर और जबलपुर में भी अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के लिए समर्थन जुटाने के लिए जनसभाएं की थी. मध्यप्रदेश मेंकुल 16 नगर निगमों, 99 नगर पालिकाओं और 298 नगर परिषदों के चुनाव दो चरणों में मतदान हुआ था.

- Advertisement -
Jamil Khan
Jamil Khanhttps://reportlook.com/
journalist | chief of editor and founder at reportlook media network
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here