9.2 C
London
Sunday, April 14, 2024

तारक मेहता की बबीता जी की बढ़ी मुश्किलें, हो सकती है गिरफ्तार

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

नई दिल्ली: फेमस टीवी शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) से सबका दिल जीतने वालीं एक्ट्रेस मुनमुन दत्ता उर्फ ​​बबीता जी (Munmun Dutta aka Babita ji) मुश्किल में नजर आ रही हैं. ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि जल्द ही वह गिरफ्तार हो सकती हैं. दरअसल, वह अपने एक थ्रोबैक विवादित वीडियो को लेकर चर्चा में हैं जिसमें उन्होंने जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल किया था.

क्यों हो सकती हैं गिरफ्तार

आपको बता दें कि बीते साल इस वीडियो के चलते एक्ट्रेस का काफी विरोध हुआ था. जिसके बाद उन्होंने अपने बयान के लिए माफी भी मांगी थी. लेकिन इसके बाद भी अब मुनमुन मुश्किल में है क्योंकि हिसार की एक विशेष अदालत ने उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी है.

क्या है मामला

बता दें कि साल 2021 में, मुनमुन ने अपने YouTube चैनल पर एक वीडियो पोस्ट किया था जिसमें उन्होंने एक विवादास्पद टिप्पणी की थी, जो सीधे अनुसूचित जाति समुदाय को टारगेट करने वाली थी. वीडियो में, उन्होंने कहा, ‘मैं यूट्यूब पर आ रही हूं, और मैं अच्छा दिखना चाहती हूं, भंगी की तरह नहीं दिखना चाहती.’ इस वीडियो के अपलोड होते ही #ArrestMunmunDutta ट्रेंड करने लगा था.

वकील ने किया बड़ा खुलासा

हमारी सहयोगी वेबसाइट DNA में प्रकाशित खबर के अनुसार, कोइमोई से बातचीत में मुनमुन दत्ता के वकील रजत कलसन ने खुलासा किया कि बबीता जी की अग्रिम जमानत याचिका हिसार में एससी / एसटी अधिनियम के तहत गठित एक विशेष अदालत द्वारा खारिज कर दी गई है. न्यायाधीश अजय तेवतिया ने उनकी जमानत खारिज कर दी, इसलिए उसकी गिरफ्तारी की संभावना अधिक है.

इतनी जगह दर्ज हुई थी शिकायत

बता दें कि इस मामले में मुनमुन की शिकायत न केवल हिसार में बल्कि उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान और मध्य प्रदेश सहित अन्य राज्यों में भी हुई थी. विवादास्पद वीडियो के खिलाफ इन सभी शिकायतों पर कार्रवाई की गई. इससे पहले, एक्ट्रेस ने पहले सुप्रीम कोर्ट में हिसार में अपने मामले की जांच के लिए एक याचिका पेश की थी. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने इसे ठुकरा दिया.

हाईकोर्ट में भी याचिका खारिज

इसके बाद वह हाईकोर्ट गईं और अपनी गिरफ्तारी रोकने का अनुरोध किया, लेकिन उनके पक्ष में कुछ नहीं हुआ. इसके बाद मुनमुन के वकील ने हिसार के एससी/एसटी एक्ट के तहत मामले को विशेष अदालत में स्थानांतरित कर दिया. 25 जनवरी को मुनमुन दत्ता की याचिका खारिज कर दी गई थी.

माफी मांगते हुए कही थी ये बात 

हालांकि विवाद के बाद, एक्ट्रेस ने विवादित बयान के लिए अपने प्रशंसकों से माफी भी मांगी थी. उन्होंने कहा, ‘यह एक वीडियो के बारे में है जिसे मैंने कल पोस्ट किया था जिसमें मेरे द्वारा इस्तेमाल किए गए एक शब्द का गलत अर्थ निकाला गया है. यह कभी किसी की भावनाओं का अपमान करने, डराने-धमकाने, अपमानित करने या आहत करने के इरादे से नहीं कहा गया. मेरी भाषा की बाधा के कारण, मुझे वास्तव में इस शब्द के अर्थ के बारे में गलत जानकारी दी गई थी. एक बार जब मुझे इसके अर्थ से अवगत कराया गया तो मैंने तुरंत अपने शब्द वापस लिए. मैं हर जाति, पंथ या लिंग के प्रत्येक व्यक्ति के लिए अत्यंत सम्मान करती हूं और हमारे समाज या राष्ट्र में उनके अपार योगदान को स्वीकार करती हूं. इस शब्द के इस्तेमाल से अनजाने में आहत हुए हर एक व्यक्ति से तहे दिल से माफी मांगना चाहती हूं और मुझे इसके लिए दिल से खेद है.’

- Advertisement -spot_imgspot_img
Jamil Khan
Jamil Khan
जमील ख़ान एक स्वतंत्र पत्रकार है जो ज़्यादातर मुस्लिम मुद्दों पर अपने लेख प्रकाशित करते है. मुख्य धारा की मीडिया में चलाये जा रहे मुस्लिम विरोधी मानसिकता को जवाब देने के लिए उन्होंने 2017 में रिपोर्टलूक न्यूज़ कंपनी की स्थापना कि थी। नीचे दिये गये सोशल मीडिया आइकॉन पर क्लिक कर आप उन्हें फॉलो कर सकते है और संपर्क साध सकते है

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here